लाइव टीवी

पाक में आतंकी ठिकानों पर एयर फोर्स ने ऐसे की Air Strike

News18Hindi
Updated: February 27, 2019, 7:02 PM IST
पाक में आतंकी ठिकानों पर एयर फोर्स ने ऐसे की Air Strike
एयरफोर्स के मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने मुजफ्फराबाद और चकोटी में टेरर कैंप्स को तबाह कर दिया. (प्रतीकात्मक)

Surgical Strike 2.0, Indian Air Force Attack Pakistan: सूत्रों ने बताया कि भारतीय वायुसेना का यह ऑपरेशन करीब 35 से 40 मिनट तक चला, जिसमें PoK में छिपे बैठे 200-300 आतंकी मारे गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2019, 7:02 PM IST
  • Share this:
पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने सीमा पार छुपे बैठे आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. भारतीय वायुसेना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वायुसेना के मिराज विमानों ने बीती रात नियंत्रण रेखा के पार आतंकी कैंप्स पर करीब 1000 किलोग्राम के बम बरसाए. इस हमले में करीब 200-300 आतंकियों और पाकिस्तानी सेना के पांच जवानों की मौत हो गई.

सूत्रों ने बताया कि यह भारतीय थल सेना और एयरफोर्स का वेल कॉर्डिनेटेड हमला था. खुफिया एजेंसियों से मिले इनपुट एयरफोर्स से शेयर किये गए थे, जिसके बाद इस पिन पॉइंट ऑपरेशन को अंजाम दिया गया. यह ऑपरेशन बेहद गुप्त रखा गया था.

सूत्रों ने बताया कि भारतीय वायुसेना का यह ऑपरेशन करीब 35 से 40 मिनट तक चला. एयरफोर्स के मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने देर रात 3:30 बजे भारतीय एयरबेस से उड़ान भरी और करीब 4-5 मिनट बाद एलओसी के पार पहुंच गए. इसके बाद रात करीब 3:45 बजे से 3:55 बजे तक मुजफ्फराबाद और फिर सुबह 3:58 बजे से रात 4:40 बजे चकोटी में जैश ए मोहम्मद, हिज्बुल मुजाहिदीन और लश्कर ए तैयबा के आतंकियों के ठिकानों पर हमला कर उसे तबाह कर दिया.





बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे. इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस हमले का करारा जवाब दिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए अपने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2019, 10:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर