Home /News /nation /

terror funding case jk state investigation agency raids 5 places in delhi one in haryana and anantnag

टेरर फंडिंग मामले में जम्मू-कश्मीर की जांच एजेंसी की बड़ी कार्रवाई, दिल्ली में 5 जगहों पर की छापेमारी

एजेंसी ने खुफिया इनपुट के बाद ये कार्रवाई की. (फाइल फोटो)

एजेंसी ने खुफिया इनपुट के बाद ये कार्रवाई की. (फाइल फोटो)

Jammu and Kashmir, SIA, Search Operation: सूत्रों के मुताबिक, एसआईए ने जिन जगहों पर छापेमारी की है, वे आतंकी गतिविधियों और हवाला या आतंकियों को फंडिंग में शामिल संदिग्ध आरोपियों के हैं. एसआईए के छापे राष्ट्रीय राजधानी में ओजीडब्ल्यू के आंदोलन के खिलाफ एक पुष्टिकारक खुफिया इनपुट के बाद की गई.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: टेरर फंडिंग मामले (Terror funding case) में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) की राज्य एजेंसी ने रविवार को राजधानी दिल्ली में बड़ी कार्रवाई की. जांच एजेंसी ने खुफिया इनपुट ( Intelligence Inputs) के आधार पर दिल्ली के पांच जगहों पर छापेमारी की. दिल्ली के अलावा हरियाणा में भी एक जगह पर छापा मारा गया. जम्मू-कश्मीर राज्य जांच एजेंसी (SIA) को हाल ही में आतंकवाद और अलगाववाद से जुड़े मामलों की जांच के लिए गठित किया गया था.

बताया जा रहा है कि एजेंसी को आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के वर्कर्स और अन्य आतंकवादी संगठन के समर्थकों के होने की सूचना मिली थी. कार्रवाई के लिए एसआईए ने अलग अलग कई टीमें गठित की थीं. इनमें से पांच टीम दिल्ली में अलग अलग स्थानों पर जांच कर रही है जबकि वहीं एक टीम हरियाणा के फरीदाबाद जिले में जबकि वहीं एक टीम कश्मीर के अनंतनाग जिले में तलाशी ले रही है.

सूत्रों के मुताबिक, एसआईए ने जिन जगहों पर छापेमारी की है, वे आतंकी गतिविधियों और हवाला या आतंकियों को फंडिंग में शामिल संदिग्ध आरोपियों के हैं. एसआईए के छापे राष्ट्रीय राजधानी में ओजीडब्ल्यू के आंदोलन के खिलाफ एक पुष्टिकारक खुफिया इनपुट के बाद की गई.

आपको बता दें कि इस साल फरवरी 2022 में, SIA ने दक्षिण और मध्य कश्मीर में छापे के दौरान JeM के 10 OGW को गिरफ्तार किया. मॉड्यूल के सदस्यों को वर्टिकल के रूप में उप-मॉड्यूल में व्यवस्थित किया गया था ताकि एक सदस्य का पता चलने की स्थिति में, बड़े नेटवर्क से समझौता न हो.

सूत्रों की मानें तो अब जांच एजेंसियां जम्मू कश्मीर में आतंक फैलाने के उद्देश्य से फंडिंग के मामले में लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद, हिजबुल मुजाहिद्दीन प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन, यासीन मलिक और शब्बीर शाह जैसे आतंकियों के खिलाफ यूएपीए की धाराओं के तहत शिकंजा कसेंगी.

Tags: Jammu and kashmir, Lashkar-e-taiba, Terror Funding

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर