J&K: शोपियां में सेना को बड़ी कामयाबी, IED एक्सपर्ट लश्कर कमांडर सहित दो आतंकी ढेर

अभी भी दो आतंकी इलाके में छुपे हुए हैं और लगातार सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर रहे हैं. दूसरी ओर कुपवाड़ा में भी सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है.

News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 2:08 PM IST
J&K: शोपियां में सेना को बड़ी कामयाबी, IED एक्सपर्ट लश्कर कमांडर सहित दो आतंकी ढेर
जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादी मुठभेड़ जारी, दो आतंकी ढेर
News18Hindi
Updated: July 27, 2019, 2:08 PM IST
जम्मू-कश्मीर के शोपियां सेक्टर में आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है. यहां भारतीय सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया है, जबकि एक जवान घायल हो गया है. मारे गए आतंकियों में एक जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर मुन्ना लाहौरी बताया जा रहा है. 19 साल का मुन्‍ना लाहोरी आईईडी बनाने का एक्‍सपर्ट था. बताया जा रहा है कि अभी भी दो आतंकी इलाके में छुपे हुए हैं और लगातार सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक, दक्षिण कश्मीर जिले के बोनबाजार क्षेत्र में आतंकवादियों के मौजूद होने की पुख्ता जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने क्षेत्र का घेराव करके सर्च ऑपरेशन शुरू किया. बताया जाता है कि सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाईं. जिसका सुरक्षाबलों ने माकूल जवाब दिया और दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई. अभी तक की जानकारी के मुताबिक भारतीय सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया है, जबकि दो आतंकी अभी भी घिरे हुए हैं.

दूसरी ओर कुपवाड़ा में भी भारतीय सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की खबर आ रही है. बताया जाता है कि गोली लगने से एक सुरक्षाबल घायल हो गया है. दोनों ओर से लगातार फायरिंग की जा रही है.


Loading...

जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर हुआ ढेर
जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच शनिवार सुबह मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर मुन्ना लाहौरी मारा गया. लाहौरी को बिहारी नाम से भी जाना जाता था और पाकिस्तान का रहने वाला था. पुलिस ने बताया कि वह कश्मीर में कई लोगों की हत्या में भी शामिल था. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि लाहौरी जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी समूह में लोगों की भर्ती भी करता था. उन्होंने बताया कि खुफिया जानकारी के आधार पर रातभर चले अभियान के बाद वह अपने एक साथी के साथ मारा गया.

आईईडी बनाने में माहिर था मुन्ना लाहोरी
मुन्‍ना लाहोरी की मौत के साथ ही सुरक्षा बलों ने 17 जून के आईईडी ब्‍लास्‍ट का बदला ले लिया. बताया जाता है कि 19 साल का मुन्‍ना लाहोरी आईईडी बनाने का एक्‍सपर्ट था और भारतीय सुरक्षाबलों के लिए खतरा बना हुआ था. पुलिस के मुताबिक बनिहाल में इस साल मार्च में सुरक्षा बलों पर हुए कार बम हमले में भी मुन्‍ना का हाथ था. जैश मुन्‍ना के माध्‍यम से स्‍थानीय युवाओं की भर्ती कर रहा था.
First published: July 27, 2019, 9:50 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...