Home /News /nation /

कश्मीर में आतंकी संगठनों का नया प्लान, 'टेस्ट लेकर' युवाओं को करेंगे भर्ती

कश्मीर में आतंकी संगठनों का नया प्लान, 'टेस्ट लेकर' युवाओं को करेंगे भर्ती

कश्मीर में आतंक फैलाने का नया प्लान. (सांकेतिक तस्वीर)

कश्मीर में आतंक फैलाने का नया प्लान. (सांकेतिक तस्वीर)

कश्मीर (Kashmir) में आतंकी तंजीमों (Terrorist Organizations) में शामिल करने से पहले युवाओं से आतंकी वारदात को अंजाम दिलवाने की योजना है. अगर वो इस काम को कर पाने में सफल हुए तो तंजीमों में शामिल किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

नई दिल्ली. कश्मीर में सेना और सुरक्षा बलों (Security Forces) ने आतंकी तंजीमों (Terrorist Organizations) की कमर तोड़ कर रख दी है. ताबड़तोड़ एंकाउंटर में आतंकियों को ढेर किया जा रहा है. पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को इस बात की चिंता सता रही है कि सर्दियों का मौसम आने को है, ऐसे में बचे दो महीनों में अगर घुसपैठ या फिर घाटी में मौजूद आतंकियों तक हथियार नहीं पहुंचाए गए तो क्या होगा? ऐसे में आईएसआई ने भरोसेमंद आतंकियों की टीम बनाने के लिए एक नई रणनीति बनाई है.

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक इस रणनीति के तहत कश्मीर में आतंकी तंजीमों में शामिल करने से पहले युवाओं से आतंकी वारदात को अंजाम दिलवाने की योजना है. अगर वो इस काम को कर पाने में सफल हुए तो तंजीमों में शामिल किया जाएगा. जैसे घाटी में पत्थरबाजी के दौर में आतंकी युवाओं के हाथों में पत्थर थमा देते थे, अब पत्थर की जगह हैंडग्रेनेड थमाए जाने का प्लान है.

बेहद खतरनाक प्लान
इसके लिए एके 47 के बजाए पहले छोटे हथियारों जैसे पिस्टल ,रिवॉल्वर और ग्रेनड नए रिक्रूट के हाथों में दिए जाने की तैयारी है. इससे आईएसआई और आतंकियों के एक साथ दो मतलब पूरे हो सकते हैं. पहला तो वारदात को अंजाम तो दूसरी जिस भी युवा के हाथों में हथियार होगा और इस्तेमाल किया जाएगा तो उसके घरवापसी की संभावनाएं भी कम हो जाएंगी.

दरअसल पिछले कुछ समय से ये देखा जा रहा है कि बड़ी संख्या में आंतकी तंजीम में शामिल युवा सुरक्षाबलों और उनके परिवारों की अपील के बाद से आतंक का रास्ता छोड़ घर वापसी कर रहे हैं और देश की मुख्यधारा से जुड़ने लगे हैं. ये पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ी समस्या है क्योंकि एक तो आतंकियों का सरेंडर, घरवापसी और उनके साथ हथियारों का भी समर्पण. लिहाजा अब आतंकी तंजीम चाहती हैं कि पत्थर की जगह ग्रेनड देकर उनके घरवापसी का रास्ता भी बंद करवा दिया जाए.

हथियार पहुंचाने की कोशिश
सूत्रों की मानें तो हाल ही में हथियारों की एक खेप अनंतनाग और कई जगह पहुंचाई गई है, जिसमें 20 ग्रेनड और 4 से 5 पिस्टल होने की बात सामने आई है. ऐसे ही छोटे हथियारों और ग्रेनेड की एक खेप को सेना ने उरी में बरामद किया है. 80 हैंडग्रेनेड और 7 पिस्टल और एक रिवॉल्वर भी बरामद हुआ था. बहरहाल पाकिस्तान की तरफ से कितनी भी कोशिश भले की जा रही है लेकिन एक बात तो तय है कि कश्मीर के युवा अब मुख्यधारा से जुड़ना ज्यादा पसंद कर रहे हैं.

Tags: Jammu and kashmir, Kashmir Terror

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर