Assembly Banner 2021

भारतीय सेना से खौफ में आतंकी, PoK लॉन्‍चपैड पर बचे अब सिर्फ 43 दहशतगर्द: रिपोर्ट

आतंकी संगठनों के बीच अब भारतीय सेना का खौफ दिखाई देने लगा है और आईएसआई के हौसले पस्‍त हो गए हैं.

आतंकी संगठनों के बीच अब भारतीय सेना का खौफ दिखाई देने लगा है और आईएसआई के हौसले पस्‍त हो गए हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी और फरवरी में लाइन ऑफ कंट्रोल (Line of Control) पर आतंकियों (Terrorist) की संख्‍या में भारी गिरावट आई है. खुफिया जानकारी के मुताबिक लाइन ऑफ कंट्रोल के उस पार बने लॉन्‍चपैड पर अब केवल 43 ही आतंकी बचे हुए हैं

  • Share this:
श्रीनगर. जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu and Kashmir) में भारतीय सेना (Indian Army) की ओर से लगातार आतंकियों (Terrorist) पर की जा रही कार्रवाई का असर अब लाइन ऑफ कंट्रोल पर दिखाई देने लगा है.आतंकी संगठनों के बीच अब भारतीय सेना का खौफ दिखाई पड़ रहा है और आईएसआई के हौसले पस्‍त हो गए हैं. यही वजह है कि पाक अधिकृत कश्‍मीर के लॉन्‍चपैड पर आतंकी आने को तैयार नहीं हो रहे हैं.

इंडिया टुडे के मुताबिक सुरक्षाबलों की एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है कि एलओसी पर आतंकी काम नहीं करना चाहते हैं और यहां बने लॉन्‍चपैड में आतंकियों की संख्‍या तेजी से कम होने लगी है. रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी और फरवरी में आतंकियों की संख्‍या में भारी गिरावट आई है. खुफिया जानकारी के मुताबिक लाइन ऑफ कंट्रोल के उस पार बने लॉन्‍चपैड में अब केवल 43 ही आतंकी बचे हुए हैं. पाक में बैठे आतंकी संगठन यहां पर और आतंकियों को भेजना चाहते हैं लेकिन कोई भी आतंकी यहां पर आने को तैयार नहीं है.

इसे भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की बुलेटप्रूफ़ हेलमेट लूटने की नई साज़िश के पीछे नक्सली, पढ़ें ये रिपोर्ट
भारतीय खुफिया एजेंसी लगातार LOC पर नजर बनाए हुए हैं और आए दिन आतंकियों के साथ मुठभेड़ में आतंकियों को मार गिराया जा रहा है. यही कारण है कि मौत के खौफ के कारण आतंकी लॉन्‍चपैड पर आने से भी कतराने लगे हैं. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक एलओसी में जिन 43 आतंकियों की जानकारी मिली है उनमें से 28 जम्मू बॉर्डर के सामने बने लॉन्चपैड पर जबकि 15 आतंकी कश्मीर घाटी के सामने सक्रिय लॉन्चपैड पर मौजूद हैं.



इसे भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर: शोपियां से हिज्बुल मजुाहिदीन से जुड़े सात लोग गिरफ्तार

भारत के कूटनीतिक दबाव का दिख रहा असर

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज