• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पुलवामा जैसा बड़ा हमला करना चाहते थे आतंकी, बरामद हथियार उड़ा सकते थे बुलेट प्रूफ गाड़ियों के परखच्चे

पुलवामा जैसा बड़ा हमला करना चाहते थे आतंकी, बरामद हथियार उड़ा सकते थे बुलेट प्रूफ गाड़ियों के परखच्चे

पिछले साल पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे. फाइल फोटो.पीटीआई

पिछले साल पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे. फाइल फोटो.पीटीआई

जैश-ए-मोहम्मद (Jaish e Mohmmed) के आतकंवादियों को कश्मीर ले जा रहा ट्रक चालक पुलवामा आत्मघाती बम हमलावर आदिल डार (Adil Dar) का चचेरा भाई है. पिछले साल पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले (Pulwama terrorist attack) में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे.

  • Share this:
    श्रीनगर. जम्मू (Jammu) के नगरोटा इलाके में मारे गए जैश-ए-मोहम्मद (Jaish e Mohmmed) के तीनों आतंकी (Terrorist) कोई बड़ी आतंकी साजिश रचने के फिराक में थे. इसके लिए उन्होंने नगरोटा हाईवे पर जगह-जगह आईईडी बम लगा रखे थे. बम को सही जगह पर लगाने के लिए उन्होंने कुछ स्लीपर सेल तैयार किए थे जो एक दो दिन में इस ब्लास्ट को अंजाम देने वाले थे. बताया जाता है कि हाईवे से बरामद आईईडी बम इतने ज्यादा शक्तिशाली थे कि इसकी जद में आने से बुलेट प्रूफ गाड़ियों को भी नुकसान हो सकता था. भारतीय सुरक्षा बलों ने पुलिस की मदद से मारे गए आतंकियों के तीन अन्य साथियों को भी पकड़ा है. ये सभी आतंकी जैश के ओवर ग्राउंड वर्कर के तौर पर काम करते थे.

    जम्मू के नगरोटा इलाके में मारे गए जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद हुआ है. पकड़े गए आतंकियों की निशानदेही पर सुरक्षाबलों को पांच Ak-47 राइफल और एक अमेरिकन एम-4 कार्बाइन राइफल भी मिली है जो एक स्निपिंग राइफल है. इसी के साथ पांच पिस्टल, 25 हथगोले हजारों की तादाद में गोलियां भी बरामद की गई हैं. पुलिस के मुताबिक ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी भारी मात्रा में गोली बरामद की गई हैं. हथियारों के साथ ही कम्युनिकेशन डिवाइसेज वायरलेस सेट और अन्य तकनीकी उपकरण भी बरामद किए गए हैं. पुलिस का कहना है कि पकड़े गए तीन आतंकियों की आरंभिक पूछताछ के दौरान कुछ बड़े खुलासे हुए हैं.



    पुलवामा हमले का आतंकी आदिल डार का भाई चला रहा था ट्रक
    जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि जैश-ए-मोहम्मद के आतकंवादियों को कश्मीर ले जा रहा ट्रक चालक पुलवामा आत्मघाती बम हमलावर आदिल डार का चचेरा भाई है. गौरतलब है कि पिछले साल पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे. सिंह ने बताया, 'ट्रक चालक (मुख्य साजिशकर्ता) की पहचान पुलवामा के समीर डार के रूप में हुई है. उसके भाई मंजूर डार की 2016 में मौत हो गई थी. वह आदिल डार का चचेरा भाई है.'

    इसे भी पढ़ें :- बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने श्रीनगर जा रहे जैश के 3 आतंकियों को किया ढेर

    चेकिंग के लिए रोका था ट्रक तभी आतंकियों का पता चला
    जम्मू के आइजी मुकेश सिंह ने बताया कि सुबह लगभग 5 बजे, पुलिस ने चेकिंग के लिए एक ट्रक को रोका था. तभी ट्रक के अंदर छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरु कर दी. जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. आतंकवादी गोलीबारी करते हुए टोल प्लाजा पास जंगल में जा छिपे. सुरक्षाबलों ने भी उनका पीछा किया. करीब तीन घंटे तक चली मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीनों आतंकवादियों को ढेर कर दिया.

    इसे भी पढ़ें :- पुलवामा में आत्‍मघाती हमले को अंजाम देने वाले का चचेरा भाई ले जा रहा था आतंकियों को, फिर...

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज