लाइव टीवी

थाईलैंड: राजा से 'वफ़ा ना करने' के आरोप में महिला सहयोगी को दी गई 'सजा'

News18Hindi
Updated: October 22, 2019, 8:55 AM IST
थाईलैंड: राजा से 'वफ़ा ना करने' के आरोप में महिला सहयोगी को दी गई 'सजा'
सिनीनात वोंग वचिरापाक को कुछ महीने पहले ही प्रमुख पद दिया गया था. (Thailand Royal Office via AP)

थाइलैंड के राजा ने अपनी सबसे करीबी सहयोगी रही महिला अधिकारी से सारे सैन्य अधिकार, सम्मान छीन लिए हैं. उन पर आरोप है कि उन्होंने राजा की पत्नी को कमतर आंकने की कोशिश की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2019, 8:55 AM IST
  • Share this:
बैंकॉक. थाईलैंड के राजा महा वाचिरालोंगकोंन ने अपनी सबसे खास सहयोगी को पद से हटा दिया है. बताया गया कि उन पर राजा से बेवफ़ाई और दुर्वयव्हार के आरोप थे, जिसके बाद सम्राट ने यह कदम उठाया.

थाईलैंड के रॉयल कमांड ने सोमवार को इसकी जानकारी दी. इसमें बताया गया कि सिनीनात वोंग वचिरापाक महात्वाकांक्षी थीं और उन्होंने खुद को रानी के पद के बराबर पहुंचाने की कोशिश की. बयान के अनुसार, सिनिनात की इस कोशिश को अपमानजनक माना गया. एक बयान में कहा गया है कि सिनिनात से सैन्य रैंक, सम्मान और शाही खिताब छीन लिया गया है.

सिनिनात को जुलाई में ही नियुक्त किया गया था. वहीं मई में थाईलैंड के राजा ने चौथी शादी भी की थी. राजा ने सुतिदा से शादी की थी. 41 वर्षीय सुतिदा, थाईलैंड के राजा की बॉडीगार्ज यूनिट की डेप्यूटी चीफ थीं. सुतिदा, फ्लाइट अटेंडेंट के साथ-साथ कई सालों से राजा के साथ दिखाई देती रही हैं.

थाइलैंड, महा वाचिरालोंगकोंन,सिनीनात वोंग वचिरापाक,सुतिदा,thailand, Maha Vajiralongkorn, Sineenat Wongvajirapakdi, Suthida
(Thailand Royal Office via AP)


आर्मी कॉलेज से किया स्नातक
26 जनवरी, 1985 को उत्तरी प्रांत नान में जन्मी सिनिनात ने 23 साल की उम्र में रॉयल थाई आर्मी नर्सिंग कॉलेज से स्नातक किया. उन्होंने थाईलैंड और विदेश में पायलट के रूप में भी प्रशिक्षण लिया है. इसके साथ ही राजा की शाही अंगरक्षक इकाई में सेवा दी है और मई में एक प्रमुख-जनरल के पद से सम्मानित किया गया था.

मई में राजा के तीन दिवसीय राज्याभिषेक समारोह के दौरान सिनिनात  को समारोह में पूरी सैन्य वर्दी में मार्च करते हुए देखा गया था.
Loading...

थाइलैंड, महा वाचिरालोंगकोंन,सिनीनात वोंग वचिरापाक,सुतिदा,thailand, Maha Vajiralongkorn, Sineenat Wongvajirapakdi, Suthida
(Thailand Royal Office via AP)


नरेशुआन विश्वविद्यालय के विश्लेषक पॉल चैंबर्स ने कहा, 'राजा के अचानक कदम से हमें पता चलता है कि वह एक राजा के रूप में देखा जाना चाहता है, जो शाही संस्थान में संभावित विभाजन नहीं करेगा.'

यह भी पढ़ें:  33 हजार फीट की ऊंचाई पर था विमान, नशेबाज खोलने लगा इमरजेंसी गेट और फिर...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 8:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...