#ThisIsTata: ऑक्सीजन सप्लाई के लिए रतन टाटा ने उठाया बड़ा कदम, लोग खूब कर रहे तारीफ

Ratan Tata

Ratan Tata

Twitter Trending Topic: कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग में देश के कई हिस्सों से ऑक्सीजन (Oxygen Supply) कमी की खबरें आई थीं. ऐसे में टाटा समूह (Tata Group) ने भारतीयों की परेशानी को कुछ हद तक कम करने का बीड़ा उठाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 10:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आपने आज सुबह से सोशल मीडिया (Social Media) प्लेटफॉर्म ट्विटर का इस्तेमाल किया है, तो एक हैशटैग से जरूर रूबरू हुए होंगे- #ThisIsTata. ट्विटर पर सुबह से ही यह ट्रैंडिंग में है. दरअसल, इस हैशटैग का सीधा मतलब उद्योगपति रतन टाटा (Ratan Tata) से है. सोशल मीडिया यूजर्स ने उद्योगपति का धन्यवाद करने के लिए इस हैशटेग का इस्तेमाल किया है. आइए समझते हैं कि मामला क्या है.

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में देश के कई हिस्सों से ऑक्सीजन कमी की खबरें आई थीं. ऐसे में टाटा समूह ने भारतीयों की परेशानी को कुछ हद तक कम करने का बीड़ा उठाया है. समूह ने लिक्विड ऑक्सीजन की आवाजाही के लिए 24 क्रायोजेनिक कंटेनर्स आयात करने का फैसला किया है. कहा जा रहा है कि इससे देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने में मदद मिलेगी.



टाटा समूह ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से लिखा 'भारत के लोगों से पीएम नरेंद्र मोदी की अपील प्रशंसनीय है और हम टाटा समूह में, COVID-19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए यथासंभव प्रयास कर रहे हैं. ऑक्सीजन संकट को कम करने के लिए, यह स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने का एक प्रयास है.' एक अन्य ट्वीट में कंपनी ने लिखा कि टाटा समूह तरल ऑक्सीजन के परिवहन के लिए 24 क्रायोजेनिक कंटेनरों का आयात कर रहा है.


मंगलवार को ही समूह ने लिखा था कि ऑक्सीजन संकट को देखते हुए वे भारत के स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करने के लिए पूरे प्रयास कर रहे हैं. खास बात है कि इससे एक दिन पहले ही टाटा स्टील ने घोषणा की थी कि वे राज्य सरकारों और अस्पतालों को रोज 200-300 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन भेज रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज