बच्चे को अच्छे स्कूल में पढ़ाने के लिए लिया था उधार, नहीं चुकाने पर परिवार ने की खुदकुशी

बच्चे को अच्छी परवरिश देने के लिए पिता ने उधार लिया था लेकिन वह उसे लौटा नहीं पा रहा था.

News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 2:44 PM IST
बच्चे को अच्छे स्कूल में पढ़ाने के लिए लिया था उधार, नहीं चुकाने पर परिवार ने की खुदकुशी
उधार न चुका पाने के कारण पूरे परिवार ने एक साथ की आत्महत्या
News18Hindi
Updated: June 13, 2019, 2:44 PM IST
तमिलनाडु के नागापट्टनम जिले में एक परिवार ने उधार की रकम न लौटा पाने के कारण फांसी लगाकर जान दे दी. बताया जाता है कि माता-पिता अपने बेटे को पढ़ाना चाहते थे लेकिन उनके पास उतनी रकम नहीं थी कि वह उसे अच्छे स्कूल में पढ़ा सकते. बच्चे को अच्छी परवरिश देने के लिए पिता ने उधार लिया था, लेकिन वह उसे लौटा नहीं पा रहा था. रोज-रोज के तनाव से तंग आकर उसने अपनी पत्नी और बेटे के साथ आत्महत्या कर ली. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

जानकारी के अनुसार 35 वर्षीय सेंथिल कुमार पेशे से जूलर थे. सेंथिल के दोस्त ने बताया कि उन्होंने गुरुवार की सुबह सेंथिल को फोन किया लेकिन उसने फोन नहीं उठाया. कई बार फोन करने के बाद भी जब फोन नहीं उठा तो वह उससे मिलने घर आ गए. घर के अंदर जाने पर पता चला कि सेंथिल ने अपनी पत्नी और लड़के के साथ फांसी लगा ली थी. घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई. सेंथिल के दोस्तों ने बताया कि बच्‍चे की स्‍कूल फीस जमा करने के लिए सेंथिल ने कई जगहों से पैसा उधार ले रखा था, जिस कारण वह काफी परेशान रहता था.



इसे भी पढ़ें :- बेटी और पत्नी का कत्ल करने के बाद पटना के मशहूर व्यवसायी ने किया सुसाइड

शुरुआती जांच में पता चला है कि सेंथिल अपने बेटे को अच्छे स्कूल में पढ़ाना चाहता था और इसी कारण उसने काफी उधार ले लिया था. उधार देने वाले अब सेंथिल से अपना पैसा मांग रहे थे लेकिन वह उधार की रकम लौटा नहीं पा रहा था. बताया जाता है कि जिस समय परिवार ने अपनी जान दी, उस वक्त उनके बेटे ने स्कूल की यूनीफॉर्म पहन रखी थी. शुरुआती जांच में पता चला है कि फांसी लगाने से पहले पूरे परिवार ने जहर मिला खाना भी खाया था. हालांकि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आना बाकी है. पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है.

ये भी पढ़ें: कैबिनेट के फैसले- जम्मू-कश्मीर में 6 महीने और राष्ट्रपति शासन, तीन तलाक बिल को मंजूरी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...