होम /न्यूज /राष्ट्र /नासिक में BAPS स्वामीनारायण मंदिर बनकर हुआ तैयार, 28 सितंबर तक चलेगा मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान

नासिक में BAPS स्वामीनारायण मंदिर बनकर हुआ तैयार, 28 सितंबर तक चलेगा मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान

नासिक में भव्य 'बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर' बनकर तैयार होने वाला है.

नासिक में भव्य 'बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर' बनकर तैयार होने वाला है.

नासिक में गोदावरी नदी के तट पर एक भव्य पत्थर का नक्काशीदार शिखर-बध 'बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर' बनकर तैयार होने वाला है ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

नासिक में भव्य स्वामीनारायण मंदिर बनकर तैयार हो गया है.
मूर्ति प्राणप्रतिष्ठा का अनुष्ठान पिछले शुक्रवार से जारी है.
अनुष्ठान में प्रतिदिन 10,000 श्रद्धालुओं के भाग लेने का अनुमान है.

नासिक: नासिक में गोदावरी नदी के तट पर एक भव्य पत्थर का नक्काशीदार शिखर-बध ‘बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर’ बनकर तैयार होने वाला है. नासिक के पंचवटी में बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर का पिछले चार सालों से काम चल रहा था, जो लगभग बन कर तैयार हो गया है. बीते रविवार को साधु भक्ति प्रियदास स्वामी ने प्रसाद प्रवेश अनुष्ठान किया था. इस दिव्य आयोजन के दौरान प्राकट ब्रह्मस्वरूप महंतस्वामी महाराज, विवेकसागर दास, घनश्यामचरण दास, महाव्रत दास, श्रुतिप्रकाश दास और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे. 

कोविड महामारी कालखंड को छोड़ दिया जाए तो पूरे चार वर्ष मंदिर का निर्माण कार्य बिना रुके जारी रहा.

News18 Hindi

मंदिर में प्राणप्रतिष्ठा से पहले विभिन्न पूजन का आयोजन किया गया है जिसमें ये निम्न हैं-
-प्राणप्रतिष्ठा अनुष्ठान के तहत सोमवार को विश्वशांति महायज्ञ का आयोजन किया गया.
-मंगलवार को भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी.
-बुधवार, 28 सितंबर को मुख्य वेदोक्त मूर्ति की स्थापना की जाएगी.
अनुष्ठान के समापन के बाद शुक्रवार 23 सितंबर से मूर्ति प्राणप्रतिष्ठा अनुष्ठान शुरू हुआ.

बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर नासिक की कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें-

  • यह गोदावरी नदी के तट पर एक भव्य पत्थर-नक्काशीदार शिखर-बध मंदिर है.
  • उपासकों को मंदिर की परिक्रमा करने की अनुमति देने के लिए इसमें केंद्रीय मंदिर के चारों ओर पैदल मार्ग हैं.
  • इसे डिजाइनों और जड़े हुए संगमरमर से सजाया गया है.
  • देश भर से लगभग 10,000 भक्तों के प्रतिदिन अनुष्ठान में शामिल होने की उम्मीद है.
  • लगभग 1,000 स्वयंसेवक एक साथ काम कर रहे हैं, जिसमें 350 से अधिक संत भाग ले रहे हैं.
  • स्वामीनारायण ट्रस्ट द्वारा उपस्थित लोगों के लिए चिकित्सा उपचार के साथ भोजन और आवास प्रदान किया जा रहा है.

Tags: Maharashtra, Nashik, Temple

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें