Home /News /nation /

सहकर्मियों पर गोली चलाने वाला जवान ‘तनाव’ में था: सीआरपीएफ

सहकर्मियों पर गोली चलाने वाला जवान ‘तनाव’ में था: सीआरपीएफ

सुकमा में आरोपी सीआरपीएफ जवान रितेश रंजन ने उस वक्त साथियों पर फायरिंग की जब वे सो रहे थे.  (प्रतीकात्‍मक फोटाेे)

सुकमा में आरोपी सीआरपीएफ जवान रितेश रंजन ने उस वक्त साथियों पर फायरिंग की जब वे सो रहे थे. (प्रतीकात्‍मक फोटाेे)

केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (CRPF) ने सोमवार को कहा कि अपने चार सहकर्मियों की गोली मारकर जान (CRPF Jawan Death) लेने और तीन अन्य को घायल करने वाला जवान कथित तौर पर ‘तनाव’ से गुजर रहा था, जिस वजह से अचानक उसने मानसिक संतुलन खो दिया. छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले के बस्तर क्षेत्र में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 50वीं बटालियन के एक शिविर में ​जवान रितेश रंजन ने अपने साथियों पर एके-47 राइफल से गोली चला दी थी, जिससे चार जवानों की मौत हो गई है जबकि तीन अन्य घायल हो गए. घटना के बारे में अधिक जानकारी और पिछले कुछ दिनों की घटनाओं का पता सीआरपीएफ द्वारा शुरू की गई ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ (सीओआई) के तहत लगाया जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    नयी दिल्ली. केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (CRPF) ने सोमवार को कहा कि अपने चार सहकर्मियों की गोली मारकर जान (CRPF Jawan Death) लेने और तीन अन्य को घायल करने वाला जवान कथित तौर पर ‘तनाव’ से गुजर रहा था, जिस वजह से अचानक उसने मानसिक संतुलन खो दिया. छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के सुकमा (Sukma) जिले के बस्तर क्षेत्र में केंद्रीय  रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 50वीं बटालियन के एक शिविर में ​जवान रितेश रंजन ने अपने साथियों पर एके-47 राइफल से गोली चला दी थी, जिससे चार जवानों की मौत हो गई है जबकि तीन अन्य घायल हो गए. अधिकारियों और जवानों ने मौके पर पहुंच आरोपी जवान को किसी तरह काबू में किया.

    सीआरपीएफ के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘स्थानीय पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और फिर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने घटना के कारण का पता लगाने और उपचारात्मक उपाय के सुझाव देने के लिए जांच के आदेश दिए हैं.’ उन्होंने कहा, ‘प्रथम दृष्टया, ऐसा प्रतीत होता है कि किसी तनाव के कारण कॉन्स्टेबल रितेश रंजन ने अचानक मनोवैज्ञानिक संतुलन खो दिया और गुस्से में आकर अपने सहकर्मियों पर गोलियां चला दीं.’ उन्होंने बताया कि सीआरपीएफ के उप महानिरीक्षक (डीआईजी), 50वीं बटालियन (जहां गोलीबारी हुई) के कमांडेंट और अन्य वरिष्ठ अधिकारी घटना स्थल पर मौजूद हैं.

    ये भी पढ़ें :  कोरोना मरीज के लिए घातक हो सकती है दिल्ली की हवा, 20% बढ़े सांस की परेशानी वाले मरीज

    ये भी पढ़ें :  यूपी विधानसभा चुनाव के लिए पीएम मोदी भी तैयार, इस महीने करेंगे 4 ताबड़तोड़ दौरे

    प्रवक्ता ने कहा, ‘सभी घायलों को आवश्यक उपचार मुहैया कराया गया है.’ जिन घायलों को अतिरिक्त उपचार की आवश्यकता है उन्हें दूसरे अस्पताल ले जाने की व्यवस्था की जा रही है. वहीं, एक अन्य अधिकारी ने बताया कि आरोपी जवान को सुबह चार बजे संतरी पोस्ट पर ड्यूटी पर जाना था, लेकिन तैयार होने के तुरंत बाद ही उसने अपने साथी कर्मियों पर गोलियां चला दी, जो सो रहे थे. यह जानकारी शिविर में मौजूद अन्य जवानों ने दी है. घटना के बारे में अधिक जानकारी और पिछले कुछ दिनों की घटनाओं का पता सीआरपीएफ द्वारा शुरू की गई ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ (सीओआई) के तहत लगाया जा रहा है.

    नक्सल विरोधी अभियानों के लिए राज्य में 25 से अधिक बटालियन तैनात करने वाले अर्धसैनिक बल ने हाल ही में अपनी सभी टुकड़ियों को एक पत्र भेजकर उन कर्मियों की पहचान करने को कहा था, जो अवसाद या तनाव में हैं और उन्हें आत्महत्या करने से रोकने तथा किसी साथी पर हमला करने से रोकने के लिए, उन्हें उचित परामर्श देने को कहा था. सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘ऐसे कर्मियों की हथियार तक आसान पहुंच सुरक्षा बल के लिए एक बड़ी चुनौती है, जो या तो आत्महत्या कर लेते हैं या अपने सहकर्मियों पर हमला कर देते हैं. इन समस्याओं से निपटने के लिए कई विकल्प अपनाए गए, लेकिन फिर भी कोई उचित समाधान अभी तक नहीं मिल पाया है.’

    Tags: CRPF, CRPF Jawan Death, Sukma, छत्तीसगढ़

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर