Home /News /nation /

सीमा विवाद में भारत और चीन दोनों ही आक्रामक, कैसा होगा LAC का भविष्य

सीमा विवाद में भारत और चीन दोनों ही आक्रामक, कैसा होगा LAC का भविष्य

पैंगोंग झील के दक्षिणी इलाके भारतीय-चीनी सैनिकों की झड़प ने सीमा पर फिर माहौल गर्मा दिया है.

पैंगोंग झील के दक्षिणी इलाके भारतीय-चीनी सैनिकों की झड़प ने सीमा पर फिर माहौल गर्मा दिया है.

INDIAN-CHINA FACE OFF: दोनों के देशों के बीच सैन्य और राजनयिक स्तर की बातचीत के बावजूद अगले कुछ महीने सीमा पर तनाव भरे हो सकते हैं. संभव है यह समय और ज्यादा लंबा हो

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. 29/30 अगस्त की रात को एक बार फिर भारत और चीन के सैनिकों (Indian and Chinese Soldiers) में झड़प (Clash) हुई. ये झड़प पैंगोंग झील के दक्षिणी हिस्से (South Bank of the Pangong Tso lake) में हुई. इसके बाद एक बार फिर दोनों देशों के बीच तनाव के हालात बढ़ गए हैं. भारत ने साफ कर दिया है कि जब दोनों देशों के बीच बातचीत चल ही रही थी तो उस दौरान चीनी सैनिकों की ये आक्रामकता सीमा समझौतों का उल्लंघन है. हालांकि भारतीय सैनिकों ने चीनियों को माकूल जवाब दिया है. लेकिन इस झड़प से पता चलता है कि सीमा पर हालात कितने तनावपूर्ण हैं.

    भारतीय सेना चीनियों को दे रही माकूल जवाब
    भारतीय सेना ने ऊंची जगह पर कब्जा कर मजबूत पोजीशन हथियाने के चीनी सेना के मंसूबे को फेल कर दिया है. इस घटना को लेकर आरोप-प्रत्यारोपों के बीच एक बात स्पष्ट हो चुकी है कि भारत-चीन सीमा का भविष्य अभी कुछ समय तक कैसा रहने वाला है. इन तनावपूर्ण हालात में दोनों ही तरफ से भारी सेना की तैनाती है. चीनी सैनिकों की तरफ से अतिक्रमण के प्रयासों का भारतीय सेना जवाब दे रही है. लेकिन ये तनावपूर्ण स्थिति आगे भी बनी हुई दिख रही है. दरअसल सीमा की अब ये स्थिति न्यू नॉर्मल हो चुकी है. संभव है कि भारत और चीन के सैनिकों के बीच ऐसी झड़पों की संख्या भविष्य में बढ़ जाए.

    अरुणाचल में भी भारत ने बढ़ाए सैनिक
    मई महीने के बाद से ही चीन ने LAC पर बड़ी संख्या मैं टैंक और अन्य युद्धक सामग्रियां तैनात कर रखी हैं. भारत की तरफ से भी लगातार सीमा पर सैनिकों की संख्या और युद्ध सामग्री बढ़ाई जा रही है. भारत ने इस बीच अरुणाचल प्रदेश में भी सैनिकों की संख्या बढ़ाई है. हालांकि इसे सेना की तरफ से रेगुलर एक्सरसाइज ही बताया गया है. लेकिन माना जा रहा है कि भारत अपनी पूर्वी सीमा पर पूरी चाकचौबंद रखना चाहता है.

    जारी है राजनयिक और सैन्य वार्ता फिर भी हो रही हैं झड़पें
    दोनों देशों के बीच सैन्य और राजनयिक स्तर की वार्ता चल रही है. लेकिन इसके बावजूद भी झड़प की घटनाएं सामने आ रही हैं. दोनों ही देश ये समझते हैं कि आमने-सामने वैश्विक शक्तियां हैं. भारत ने बुधवार को फिर एक बार 118 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है. इनमें बेहद पॉपुलर ऐप पबजी भी शामिल है. भारत ने इन ऐप्स को देश की अखंडता के लिए खतरा बताते हुए कार्रवाई की है. ऐसे में यह माना जा सकता है कि दोनों के देशों के बीच बातचीत के बावजूद अगले कुछ महीने सीमा पर तनाव भरे हो सकते हैं. संभव है यह समय और ज्यादा लंबा हो.

    Tags: India China Border Tension, India-china face-off, Ladakh

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर