बड़ी लापरवाही: वैक्‍सीनेशन के 30 मिनट बाद ही शख्‍स को दोबारा लगा दी वैक्‍सीन

व्यक्ति को 30 मिनट के अंतराल पर कोविड टीके की दो खुराकें दी गईं. (सांकेतिक तस्वीर)

COVID-19 Vaccination: साहू ने बताया कि पहली खुराक लगाने के बाद उन्हें 30 मिनट की निगरानी में रखा गया था जिस दौरान एक नर्स ने उन्हें गलती से दूसरी खुराक लगा दी.

  • Share this:
    बारीपदा. ओडिशा (Odisha) के मयूरभंज जिले में 51 वर्षीय शख्स को 30 मिनट के अंतराल पर कोविड रोधी की दो खुराकें लगा दी गईं. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि व्यक्ति की पहचान प्रसन्न कुमार साहू के तौर पर हुई है जो रघुपुर गांव का रहने वाला है. वह शनिवार को टीके के लिए स्लॉट बुक कराने के बाद खुंटापुर में सत्यसाई सरकारी उच्च स्कूल में बनाए अस्थायी टीकाकरण केंद्र गया था.

    साहू ने बताया कि पहली खुराक लगाने के बाद उन्हें 30 मिनट की निगरानी में रखा गया था जिस दौरान एक नर्स ने उन्हें गलती से दूसरी खुराक लगा दी. साहू ने कहा, 'मैंने इस बारे में कहा लेकिन तब तक नर्स ने टीका लगा दिया था.' केंद्र पर्यवेक्षक राजेंद्र बेहरा ने बताया कि उन्हें दो और घंटे निगरानी में रहने को कहा गया था तथा ओआरएस का घोल दिया गया. उन्होंने कहा कि व्यक्ति टीकाकरण स्थान पर बैठा था न कि निगरानी कक्ष में गया था. बेहरा ने कहा, 'गलती से उन्हें दूसरी खुराक लगा दी गई.'

    बेतनती सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सिपुन पांडा ने पीटीआई-भाषा से कहा कि उन्हें शिकायत के बारे में मालूम है और जिम्मेदार शख्स के खिलाफ कोई कार्रवाई करने से पहले जांच समिति मामले को देखेगी.

    टीका लगवाएं, कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूती दें: प्रधानमंत्री
    केंद्र सरकार द्वारा सोमवार से वयस्कों के लिए देशभर में मुफ्त टीका उपलब्ध कराए जाने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से टीका लगवाकर कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूती देने की अपील की.

    ये भी पढ़ें: Coronavirus Vaccination: भारत ने एक दिन में किया रिकॉर्ड वैक्सीनेशन, अब तक 69.25 लाख का आंकड़ा पार

    ये भी पढ़ें: 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, अगले महीने खाते में आएंगे 2,18,200 रुपये, जानें कैसे?

    प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर साझा किए गए संदेश में कहा कि भारत में टीकाकरण अभियान के इस चरण का सबसे अधिक लाभ देश के गरीबों, मध्यम वर्ग और युवाओं को होगा. उन्होंने कहा कि जन सहभागिता के माध्यम से भारत कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई को मजबूती देने के लिए कृतसंकल्प है. मोदी ने ट्विटर पर एक इन्फो-ग्राफिक साझा किया, जिसमें इस बात पर जोर दिया गया कि कोविड-19 टीका पूरी तरह सुरक्षित है और लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की.

    अब तक 45 साल से अधिक आयुवर्ग के लोगों के लिए निशुल्क टीका उपलब्ध था. हालांकि, अब 18 वर्ष से अधिक आयु का प्रत्येक व्यक्ति इस सुविधा का लाभ उठा सकता है.

    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.