आंध्र में किसानों की मदद करता ATAFF का टोमैटो चैलेंज

आंध्र में किसानों की मदद करता ATAFF का टोमैटो चैलेंज
स्थानीय लोगों की मदद से टमाटर को जरूरतमंदों में वितरित किया गया.

संगठन की तरफ से गरीब किसानों के पास से टमाटर खरीद कर टोमैटो चैलेंज को बढ़ावा दिया गया.

  • Share this:
आंध्र प्रदेश में टमाटर की खेती करने वाले किसान इन दिनों काफी नुकसान झेल रहें है. काफी मेहनत करके टमाटर खेती करने के बाद भी उन किसानों को कोई मुनाफा नहीं मिल रहा. टमाटर के किसान अपनी पीड़ा को सोशल मीडिया पर पोस्ट करके दुनिया के सामने लेकर आए. किसानों की तकलीफ़ को समझकर कुछ लोग अमेरिका तेलुगु एसोसिएशन फॉर तेलुगु फार्मर्स (ATAFF) का संगठन बनाकर मदद करने के लिए आगे कदम बढ़ाया.

संगठन की तरफ से बताया गया कि हम उन किसानों को उचित पुरस्कार प्रदान करने की उम्मीद करते हैं, जिन्हें सख्त जरूरत है. संगठन की तरफ से गरीब किसानों के पास से टमाटर खरीद कर टोमैटो चैलेंज को बढ़ावा दिया गया. बहुत सारे लोग टोमैटो चैलेंज को स्वीकार कर टमाटर खरीदने के काम में आगे आए और कुछ लोगों ने टमाटर खरीदकर गरीबों को बांटने का भी काम किया. इससे टमाटर की बिक्री में जोरशोर से बढ़ोतरी हुई.

गरीब किसानों के पास से टमाटर खरीद कर टोमैटो चैलेंज को बढ़ावा दिया गया




संगठन ने स्थानीय लोगों की मदद से टमाटर को जरूरतमंदों में वितरित किया. इससे कुल 200 किसानों को लाभ मिला, जिसमें चित्तूर जिले के किसान, तबलपल्ली मंडल, कोटककोटा मंडल विंजमुरु के नेल्लोर जिले के किसान तथा पुलिवेंदुला के आम किसान शामिल है.
इन किसानों से कुल 250 टन सामान खरीदे गए और उन्हें 60,000 जरूरतमंदों के बीच वितरित किया गया


इसके अलावा प्रकाशम जिले के गिद्दलुरू से विभिन्न सब्जियों जैसे टमाटर, प्याज, गाजर, गोभी, बैंगन, हरी मिर्च और आम जैसे फलों की खरीदारी की गई. इन किसानों से कुल 250 टन सामान खरीदे गए और उन्हें 60,000 जरूरतमंदों के बीच वितरित किया गया, यानी प्रति व्यक्ति 4 किलोग्राम.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज