लाइव टीवी
Elec-widget

प्रियंका गांधी के घर में आसानी से एंट्री पर आश्चर्य में है मेरठ का त्यागी परिवार, गृहमंत्री ने बताया- 3 सुरक्षाकर्मी किए गए निलंबित

News18Hindi
Updated: December 3, 2019, 4:57 PM IST
प्रियंका गांधी के घर में आसानी से एंट्री पर आश्चर्य में है मेरठ का त्यागी परिवार, गृहमंत्री ने बताया- 3 सुरक्षाकर्मी किए गए निलंबित
गांधी परिवार की सुरक्षा का मुद्दा संसद में भी उठा प्रियंका गांधी, फाइल फोटो)

मेरठ (Meerut) के चंद्रशेखर त्यागी ने बताया कि उनका परिवार 25 नवंबर को प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के घर गया था. चंद्रशेखर त्यागी ने न्यूज18 को बताया कि वो, उनकी मां, बेटा, बहन और भांजी ड्राइवर समेत प्रियंका गांधी के घर गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2019, 4:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के घर में घुसे परिवार ने मीडिया से बात की है और आसानी से घर के अंदर एंट्री (Entry) दिए जाने की बात पर आश्चर्य जताया है. मेरठ के चंद्रशेखर त्यागी ने बताया कि उनका परिवार 25 नवंबर को प्रियंका गांधी के घर गया था. चंद्रशेखर त्यागी ने न्यूज18 को बताया कि वो, उनकी मां, बेटा, बहन और भांजी ड्राइवर समेत प्रियंका गांधी के घर गए थे. उन्होंने कहा है कि जिस तरह से उन्हें बिना जांच के घर के अंदर आसानी से जाने की अनुमति दी गई, उससे उन्हें खुद आश्चर्य (Surprise) हुआ.

ANI के साथ बातचीत में भी परिवार की एक महिला ने कहा कि सुरक्षाकर्मियों (Security Persons) ने उनसे ज्यादा पूछताछ नहीं की और उन्हें आसानी से बैरिकेडिंग (Barricading) हटाकर घर के अंदर जाने की अनुमति दे दी.

संसद में भी गहमा-गहमी का सबब बनी प्रियंका गांधी की सुरक्षा में चूक
हालांकि गांधी परिवार (Gandhi Family) की सुरक्षा को लेकर संसद में बहस के दौरान बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव (GVL Narasimha Rao) ने कहा कि आखिर गांधी परिवार को किससे खतरा है, पहले यह बताया जाए. क्या आप को उन कांग्रेस समर्थकों से खतरा है, जो बिना बताए आपके घर आ जाते हैं. यह बात उन्होंने प्रियंका गांधी के घर में गैर अधिकृत एंट्री को लेकर कही.

हालांकि उन्होंने इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि यह एक अतिवादी ने की थी. लेकिन जीवीएल के बयान के बाद पूरी कांग्रेस (Congress) खड़ी होकर उनका विरोध करने लगी और उसने इस बयान को दुर्भाग्यपूर्ण भी बताया.

अमित शाह ने बयान पर दी सफाई, बात को रिकॉर्ड से हटाने की मांग की
जिसके बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने इस पर सफाई दी और कहा कि जीवीएल एक हत्या का कारण मात्र बता रहे थे, वह इसका समर्थन नहीं कर रहे थे बल्कि उन्होंने भी हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण ही बताया. अमित शाह ने कहा कि मैं खुद मांग करता हूं कि जीवीएल की इस बात को रिकॉर्ड (Record) से हटा दिया जाए.
Loading...

केंद्रीय गृह मंत्री ने यह भी कहा कि सुरक्षा स्टाफ को गेट पर सूचना मिली थी कि राहुल गांधी 25 नवंबर शाम को काली गाड़ी में मिलने आने वाले हैं ,लेकिन आए मेरठ से चार कांग्रेस कार्यकर्ता. उन्होंने यह भी बताया कि उसमें शारदा त्यागी हैं, जो मेरठ महिला मंडल की अध्यक्ष हैं. गृह मंत्री ने यह जानकारी भी दी कि फिर भी उन्होंने 3 लोगों को निलंबित कर दिया है.

यह भी पढ़ें: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा में हुई चूक, काफिले के सामने कूदा आदमी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 4:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...