होम /न्यूज /राष्ट्र /

दुनिया ने भारत को 75वीं वर्षगांठ पर दी बधाई, बाइडन और पुतिन का मिला संदेश

दुनिया ने भारत को 75वीं वर्षगांठ पर दी बधाई, बाइडन और पुतिन का मिला संदेश

आजादी की 75 वीं वर्षगांठ मना रहे भारत को दुनिया भर से बधाई मिली है.

आजादी की 75 वीं वर्षगांठ मना रहे भारत को दुनिया भर से बधाई मिली है.

आजादी की 75वीं वर्षगांठ (75th Independence Day) पर भारत अमृत महोत्सव मना रहा है तो दुनिया के हर कोने और बड़े-बड़े नेताओं की तरफ से बधाई संदेश मिला है. फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुअल मैंक्रो, भारत में चीन के राजदूत सन वेडॉन्‍ग, मालदीव के मंत्री अब्‍दुल्‍ला शाहिद पहले ही बधाई संदेश भेज चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

भारत मना रहा अपनी आजादी की 75वीं, कई देशों ने दी बधाई
अमेरिका, जापान, चीन और मालद्वीप तक सबने भेजा संदेश
भारत को समृद्धि और भारतीयों को खुशी के लिए शुभकामनाएं दीं

नई दिल्‍ली. आजादी की 75वीं वर्षगांठ (75th Independence Day) पर भारत अमृत महोत्सव मना रहा है तो दुनिया के हर कोने और बड़े-बड़े नेताओं की तरफ से बधाई संदेश मिला है. अमेरिका और रूस से लेकर पड़ोसी देश मालदीव तक से भारत को संदेश भेजा गया है. भारत में नेपाली दूतावास, इटली के दूतावास, जर्मनी के दूतावास, भारत में कनाडा का उच्चायोग समेत दुनिया के अलग अलग देशों ने भारत को आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर बधाई दी. अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन और रूस के राष्‍ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बधाई संदेश भेजा है. इसके साथ ही फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुअल मैंक्रो, भारत में चीन के राजदूत सन वेडॉन्‍ग, मालदीव के मंत्री अब्‍दुल्‍ला शाहिद पहले ही बधाई संदेश भेज चुके हैं.

अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि अमेरिका, भारत के साथ है. वह, भारत की स्वतंत्रता के 75वीं वर्षगांठ के मौके पर भारत की लोकतांत्रिक यात्रा में सम्मान के साथ शामिल है जो की महात्मा गांधी के सत्य और अहिंसा द्वारा निर्देशित है. साल 2022 भारत और अमेरिका दो महान लोकतंत्रों के बीच कूटनीतिक संबंधों की 75वीं वर्षगांठ का साल है और भारत और अमेरिका अपरिहार्य साझेदार हैं. राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने विश्वास जताया की कि आनेवाले वर्षो में दोनों लोकतंत्र नियम आधारित ऑर्डर के लिए, हिंद प्रशांत क्षेत्र को खुला और स्वतंत्र रखने के लिए और दुनिया की चुनौतियों का सामना करने के लिए एक साथ खड़े रहेंगे.

रूस और ऑस्‍ट्रेलिया ने भेजी शुभकामनाएं 

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी भारत को बधाई दी है. भारत की राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम अपने संदेश में पुतिन ने लिखा भारत ने आर्थिक,समाजिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और दूसरे क्षेत्रों सफलता हासिल की है. भारत और रूस का संबंध विशेष सामरिक साझेदारी की भावना से बढ़ रहा है. वहीं, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज ने लिखा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का प्रादुर्भाव और स्वतंत्र भारत की उपलब्धियां उल्लेखनीय है. भारत और ऑस्ट्रेलिया बढ़ते द्विपक्षीय सहयोग के लिए प्रतिबद्ध हैं. भारत को स्वतंत्रता दिवस पर शुभकामनाएं देते हुए ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज ने लिखा कि 1947 में जब प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने जब अपने लोगों से स्वतंत्रता के विश्वास का आह्वान किया था तो दुनिया सोच भी नहीं सकती थी कि भारत उनकी पुकार को कितनी गंभीरता से सुनेगा.
अल्बानिज ने लिखा की प्रधानमंत्री के तौर पर उनका पहला कार्य QUAD सम्मेलन में शामिल होना था जहां वो पीएम मोदी से मिले और हिंद प्रशांत क्षेत्र में अपनी जरूरतों को लेकर प्रतिबद्धता जाहिर की.

जापानी दूतावास की तरफ से बधाई
भारत में जापानी राजदूत संतोष सुजुकी ने भारत को आजादी की 75वी वर्षगांठ की शुभकामनाएं तो दी ही इसके अलावा भारत में जापानी दूतावास के जापानी और भारतीय स्टाफ ने एक साथ जन गण मन का गान भी किया.

चीन और फ्रांस ने दी शुभकामनाएं
भारत में चीन के राजदूत सन वेडॉन्ग ने भारत को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी. चीनी राजदूत ने कहा कि स्वतंत्रता की भावना एक ऐसी विरासत है जो की भारतीय और चीनी लोगों द्वारा साझा की जाती है जिसे आगे ले जाया जाएगा. भारत को समृद्धि और भारतीयों को खुशी के लिए शुभकामनाएं.
फ्रांस के राष्‍ट्रपति ने दिया संदेश फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रो ने आजादी के 75 वर्ष पूरा होने के मौके पर लिखा आप जब पिछले 75 वर्षों में भारत की शानदार उपलब्धियों का गर्व से जश्न मना रहे हैं, आप भरोसा कर सकते हैं कि फ्रांस हमेशा आपका साथ देगा.

ब्रिटेन ने भी दी 
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत की आजादी की 75वी वर्षगांठ पर भारत और ब्रिटेन के बीच संबंधों को अगले 75 वर्षों में और भी बेहतर होते हुए देखने के लिए उत्सुकता जाहिर की. जॉनसन ने लिखा की हर भारतीय को स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ की बधाई! अपनी हाल की गुजरात और नई दिल्ली की यात्रा के दौरान मैंने हमारे देशों के बीच मज़बूत हुए लिविंग ब्रिज को देखा.

मालदीव ने भी भेजी
भारत के पड़ोसी मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने भारत को शुभकामनाएं देते हुए लिखा की वो आश्वस्त है कि भारत और मालदीव के बीच सामरिक साझेदारी और भी समृद्ध होगी.

Tags: 75th Independence Day, India

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर