• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कांग्रेस संगठन में बदलाव की आहट, वरिष्ठ नेताओं का दौर लौटने के संकेत!

कांग्रेस संगठन में बदलाव की आहट, वरिष्ठ नेताओं का दौर लौटने के संकेत!

2022 की हार का दाग प्रियंका के कैरियर पर न लगे इसके लिए गठबंधन वाला उपाय किया जा रहा है.

2022 की हार का दाग प्रियंका के कैरियर पर न लगे इसके लिए गठबंधन वाला उपाय किया जा रहा है.

कांग्रेस यूपी में अकेले चुनाव में नहीं जाना चाहती लिहाज़ा मायावती और अखिलेश के इनकार के बावजूद गठबंधन की संभावना तलाश रही है. पार्टी ने कमलनाथ को इस मोर्चे पर लगाया है. कमलनाथ ने गुरुवार को 10 जनपथ में सोनिया गांधी से इस बाबत मुलाकात भी की है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस यूपी में सपा/बसपा से गठबंधन करना चाहती है. पार्टी ने इसके लिए मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को ज़िम्मेदारी दी है. इस बीच चर्चा ये भी है कि कमलनाथ को केंद्रीय भूमिका देकर कांग्रेस उनको कार्यकारी अध्यक्ष बना सकती है. जल्द ही पार्टी के संगठन चुनाव के लिए कार्यसमिति की बैठक बुलाई जा सकती है. कांग्रेस यूपी में अकेले चुनाव में नहीं जाना चाहती लिहाज़ा मायावती और अखिलेश के इनकार के बावजूद गठबंधन की संभावना तलाश रही है.

पार्टी ने कमलनाथ को इस मोर्चे पर लगाया है. कमलनाथ ने गुरुवार को 10 जनपथ में सोनिया गांधी से इस बाबत मुलाकात भी की है. इस बैठक में यूपी कांग्रेस की इंचार्ज प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं. कमलनाथ के मुलायम परिवार और मायावती से अच्छे रिश्ते हैं इसीलिए उनको ये भूमिका दी गई है.



क्यों किया जा रहा है गठबंधन वाला उपाय?
सूत्रों के मुताबिक 2019 के चुनाव से लेकर पंचायत और ब्लॉक प्रमुख/ज़िला पंचायत चुनाव में कांग्रेस की पहले ही खस्ता हालत हो चुकी है आगे 2022 की हार का दाग प्रियंका के करियर पर न लगे इसके लिए गठबंधन वाला उपाय किया जा रहा है.

कांग्रेस संगठन में भी बड़े बदलाव की आहट
उधर कांग्रेस संगठन में भी बड़े बदलाव की आहट है. पार्टी में एक राय ये है कि संगठन चुनाव के बाद पूर्णकालिक अध्यक्ष के चुनाव तक कमलनाथ जैसे वरिष्ठ नेता को पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष बना देना चाहिए. यही नहीं इन सलाहकारों के मुताबिक पार्टी को 4 उपाध्यक्ष भी बना देने चाहिए. इसके लिए रमेश चेनिथल्ला, अशोक गहलोत, ग़ुलाम नबी आजाद और प्रियंका गांधी का नाम दिया गया है. प्रियंका गांधी महासचिव हैं लेकिन उनको यूपी से निकलकर उपाध्यक्ष बनाने की सलाह दी गई है. प्रियंका को अहमद पटेल की खाली जगह में फिट करने के लिए उपाध्यक्ष के रूप में संगठन की ज़िम्मेदारी देने और उनके साथ वेणुगोपाल को लगाने का विकल्प दिया गया है.

हालांकि इन सभी सुझावों पर पार्टी ने अभी कोई फैसला नहीं लिया है. पार्टी में दूसरी राय ये है कि जल्दी संगठन चुनाव करवाये जाएं ताकि राहुल गांधी को पूर्णकालिक अध्यक्ष बना दिया जाए. इसके लिए जल्दी ही कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक बुलाने की चर्चा भी पार्टी में चल रही है. प्रशांत किशोर के पिक्चर में आने के बाद उनके खुद पार्टी में शामिल होने/ संगठन में आमूल बदलाव सहित कई कयास और लगाए जा रहे हैं. अंतिम फैसला होना अभी भी बाकी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज