शिवसेना के 5 पार्षदों के NCP में जाने से गठबंधन सरकार में टेंशन, कांग्रेस बोली कोई दिक्कत नहीं

शिवसेना के 5 पार्षदों के NCP में जाने से गठबंधन सरकार में टेंशन, कांग्रेस बोली कोई दिक्कत नहीं
महाराष्ट्र विकास अघाड़ी के प्रमुख नेताओं की फाइल फोटो (फोटो- PTI)

शिवसेना (Shiv Sena), राकांपा (NCP) और कांग्रेस उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की अगुवाई वाली सरकार के तीन घटक हैं.

  • Share this:
मुंबई. अहमदनगर जिले (Ahmednagar District) में शिवसेना के पांच पार्षदों के राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हो जाने के दो दिन बाद महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहब थोराट ने सोमवार कहा कि कि सत्तारूढ़ महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (Maharashtra Vikas Aghadi) में कोई कलह नही है. थोराट ने यह भी कहा कि कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के बीच मंत्रियों के लिए वाहनों की प्रस्तावित खरीद की खबर अधूरी सूचना पर आधारित है.

पिछले शनिवार को पुणे जिले के बारामती में परमार से शिवसेना (Shiv Sena) के पांच पार्षद उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Ajit Pawar) की उपस्थिति में राकांपा में शामिल हो गये. जब थोराट से परमार की घटना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘....अघाड़ी में कोई कलह नहीं है. कुछ लोग कलह होने का इंतजार कर रहे हैं. वे ऐसे अभियान में लगे रहते हैं. लेकिन उस (अभियान) से ज्यादा कुछ नहीं हुआ है. गठबंधन मजबूत और एकजुट है.’’ शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की अगुवाई वाली सरकार के तीन घटक हैं.

"महाराष्ट्र सरकार के वाहन खरीद की खबर अधूरी सूचना पर आधारित"
महाराष्ट्र के राजस्व में भारी गिरावट के वक्त मंत्रियों के लिए वाहन खरीदने के प्रस्ताव को लेकर विपक्ष द्वारा सरकार को निशाना बनाये जाने के बारे में पूछे गये सवाल पर थोराट ने कहा कि यह खबर अधूरी सूचना पर आधारित है.
राज्य सरकार ने शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ के लिए सात सीटों वाले एक सरकारी वाहन की खरीद के लिए हाल ही में 22.83 लाख रूपये मंजूर किये. इसकी विपक्ष भाजपा ने कड़ी आलोचना की. उसने कोविड-19 महामारी के बीच शिवसेना नीत सरकार की प्राथमिकताओं को लेकर उस पर सवाल खड़ा किया. गायकवाड़ मुम्बई से कांग्रेस विधायक हैं.



"6 वाहनों की खरीद का प्रस्ताव था लेकिन सिर्फ 1 की खरीद हुई"
थोराट ने कहा कि शिक्षा विभाग ने वाहनों की खरीद का प्रस्ताव रखा था जो यह सुनिश्चित करने के लिए जरूरी हैं कि प्रशासन का कामकाज अच्छी तरह चले, ‘‘ लेकिन जो खबर आयी, वह अधूरी सूचना पर आधारित थी. छह वाहनों की खरीद का प्रस्ताव था लेकिन केवल एक वाहन की खरीद को मंजूरी दी गयी.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading