• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पहाड़ों पर होने वाली है खूब बर्फबारी, उत्‍तर भारत में मार्च की शुरुआत रहेगी उम्‍मीद से ज्‍यादा ठंडी

पहाड़ों पर होने वाली है खूब बर्फबारी, उत्‍तर भारत में मार्च की शुरुआत रहेगी उम्‍मीद से ज्‍यादा ठंडी

वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस के चलते उत्तर भारत के पहाड़ों पर जल्द ही बर्फबारी का सिलसिला शुरू होने वाला है. 
(File Pic)

वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस के चलते उत्तर भारत के पहाड़ों पर जल्द ही बर्फबारी का सिलसिला शुरू होने वाला है. (File Pic)

मौसम विशेषज्ञों की राय में पश्चिमी विक्षोभ की एक लंबी शृंखला उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में जल्‍द ही दिखाई देगी. इसकी पहली कड़ी 20 फरवरी को पहाड़ों पर दस्तक देगी, जिससे आगामी कई दिन तक बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है. विशेषज्ञों के अनुसार, यह मौसमी एक्टिविटी जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और उत्तराखंड तक रहने की उम्‍मीद है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली : अगर आप मैदानी इलाकों में ठंड कम होने के चलते सोच रहे हैं क‍ि सर्दी का मौसम (Cold Weather) जा चुका है, तो थोड़ा रूकिये. अभी फरवरी के अंतिम सप्‍ताह और मार्च के शुरुआती हफ्ते आपको अच्‍छी-खासी ठंड के मौसम का अहसास कराएंगे. इसके पीछे वजह है उत्‍तर भारत के पहाड़ों पर पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) की दस्‍तक. इस वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस के चलते उत्तर भारत के पहाड़ों पर जल्द ही बर्फबारी (Snowfall) का सिलसिला शुरू होने वाला है.

पश्चिमी विक्षोभ की एक लंबी शृंखला उत्तर भारत के पर्वतीय राज्‍यों पर आएगी
मौसम विशेषज्ञों की राय में पश्चिमी विक्षोभ की एक लंबी शृंखला उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में जल्‍द ही दिखाई देगी. इसकी पहली कड़ी 20 फरवरी को पहाड़ों पर दस्तक देगी, जिससे आगामी कई दिन तक बारिश और बर्फबारी होने की संभावना है. विशेषज्ञों के अनुसार, यह मौसमी एक्टिविटी जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश, लद्दाख और उत्तराखंड तक रहने की उम्‍मीद है.

20 फरवरी से शुरू होगा प्रभाव
निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्‍काईमेट ने अनुमान जताया है कि पहले पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव 20 फरवरी से शुरू होगा. नतीजतन, अगले दो दिन 21-22 फरवरी तक जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश समेत समूचे पहाड़ी क्षेत्रों में अधिकांश जगहों पर बारिश और स्‍नोफॉल होगा. संभावना है कि इस एक-दो स्थानों पर भारी बर्फबारी भी हो सकती है. वहीं, 23 और 24 फरवरी को मौसमी गतिविधियां कम हो जाएंगी, लेकिन इस दौरान भी पहाड़ों पर कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होगी. हालांकि एक-दो जगहों पर हिमपात भी हो सकता है. एजेंसी के अनुसार, 25 फरवरी को मौसम अपेक्षाकृत साफ हो जाएगा और थोड़ी-बहुत बारिश से ज़्यादा की संभावना नहीं है.

कश्मीर से लेकर उत्तराखंड तक बारिश और बर्फबारी शुरू होगी
एजेंसी के प्रमुख विज्ञानी महेश पालावत बताते हैं कि इसके बाद अगला मौसमी सिस्टम 26 फरवरी को दस्तक देगा. इसके चलते कश्मीर से लेकर उत्तराखंड तक बारिश और बर्फबारी शुरू हो जाएगी. आगामी स्पेल भी 3-4 दिनों तक चलेगा. इस बारिश और बर्फबारी से पहाड़ों पर बारिश में अब तक की कमी की भरपाई तो हो जाएगी, लेकिन इससे स्थानीय लोगों के साथ-साथ सैलानियों के लिए चुनौतिययां भी पैदा हो सकती हैं.

उत्‍तर भारत में मार्च के शुरुआती दिन उम्मीद से अधिक ठंडे होंगे
वह बताते हैं कि आने वाले दिनों में पहाड़ों पर इस मौसम के मैदानी इलाकों पर प्रभाव की जहां तक बात है तो पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में मुख्यतः शुष्क मौसम ही बरकरार रहेगा. इन राज्यों में मामूली बारिश से अधिक की अपेक्षा फिलहाल नहीं है. इन राज्यों के तराई क्षेत्रों में कहीं-कहीं हल्की वर्षा बादलों की गर्जना के साथ हो सकती है. आगामी शृंखला के बाद जब मौसम साफ हो जाएगा तब ठंडी हवाओं का एक झोंका देश के मैदानी भागों में आएगा और मार्च के शुरुआती दिन उम्मीद से अधिक ठंडे हो सकते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज