इन सभी उपलब्धियों को हासिल करने वाली देश की पहली महिला थीं सुषमा स्वराज

दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनने के अलावा सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj), बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री बनी पहली महिला भी थीं.

News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 6:22 AM IST
इन सभी उपलब्धियों को हासिल करने वाली देश की पहली महिला थीं सुषमा स्वराज
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का हार्ट अटैक के चलते 67 की उम्र में निधन हो गया (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 7, 2019, 6:22 AM IST
भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) का 67 वर्ष की उम्र में दिल्ली के एम्स में निधन हो गया है. मंगलवार रात उन्हें गंभीर हालत में एम्स में भर्ती कराया गया था. भारतीय जनता पार्टी की शुरुआत से ही पार्टी से जुड़ी रहीं सुषमा स्वराज का अपनी काबिलियत के चलते पार्टी के अंदर कद तेजी से बढ़ा था. साथ ही वे जनता के दिल के करीब भी रही थीं.

यही वजह है कि आज भी सुषमा स्वराज के नाम कई ऐसे रिकॉर्ड्स हैं, जो उन्होंने पहली महिला राजनेता के तौर पर देश के राजनीतिक मंचों पर पहली महिला के तौर अपना नाम दर्ज कराया.

दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री
सुषमा स्वराज को अटल बिहारी वाजपेयी की पहली सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय जैसा महत्वपूर्ण पद मिला था. हालांकि यह सरकार ज्यादा चल नहीं सकी और 13 दिनों में ही गिर गई. दोबारा बनी वाजपेयी सरकार में सुषमा स्वराज को फिर से सूचना एवं प्रसारण मंत्री बनाया गया. उस वक्त उनके पास दूरसंचार मंत्रालय जैसा महत्वपूर्ण मंत्रालय भी था. इसके बाद वे दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं. वे 1998 में दिल्ली की मुख्यमंत्री बनीं थीं. हालांकि कुछ ही दिनों में उन्होंने राष्ट्रीय राजनीति में वापसी के लिए दिल्ली की मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया.

भारतीय जनता पार्टी की पहली महिला मुख्यमंत्री
सुषमा स्वराज भारतीय जनता पार्टी की पहली महिला मुख्यमंत्री भी रहीं. उन्होंने जो राह बनाई, उस पर आगे उमा भारती, वसुंधरा राजे सिंधिया और आनंदीबेन पटेल भी चलीं. लेकिन, बीजेपी की पहली मुख्यमंत्री होने का रिकॉर्ड सुषमा स्वराज के नाम ही है. वे 1998 में दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी की सरकार में मुख्यमंत्री बनी थीं.

कई मामलों में देश की पहली महिला थीं सुषमा स्वराज (न्यूज18 क्रिएटिव)

Loading...

5 सालों का कार्यकाल पूरा करने वाली भारत की पहली महिला विदेश मंत्री
सुषमा स्वराज को पीएम नरेन्द्र मोदी की पहली सरकार में विदेश मामलों का मंत्री बनाया गया था. सुषमा स्वराज ने अपने इस पद पर पांच सालों का कार्यकाल पूरा किया. रोचक बात यह है कि वे ऐसा कारनामा करने वाली पहली ही महिला केंद्रीय मंत्री थीं. इससे पहले दो बार इंदिरा गांधी विदेश मंत्री का पद संभाल चुकी थीं लेकिन वे पूरे 5 साल तक इस पद पर नहीं रहीं थीं.

देश की पहली महिला नेता, जो विपक्ष की नेता रही
सुषमा स्वराज देश की पहली महिला नेता भी थीं, जो विपक्ष की नेता रहीं. 15वीं लोकसभा में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेता लालकृष्ण आडवाणी की जगह ली थीं. इसके बाद वे इस पद पर मई, 2014 तक बनी रहीं. इसके बाद बीजेपी बड़े बहुमत के साथ सत्ता में आई.

यह भी पढ़ें: जेपी आंदोलन का हिस्सा थीं सुषमा स्वराज! इंदिरा गांधी से लेकर सोनिया तक से लिया लोहा!

First published: August 7, 2019, 6:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...