कोरोना संक्रमित होने पर कौन-कौन सी दवा ले सकते हैं आप? डॉक्टर दे रहे हैं सलाह

पटना एम्स में डॉक्टर्स समेत 384 मेडिकल स्टॉफ कोरोना संक्रमित. (प्रतीकात्मक)

पटना एम्स में डॉक्टर्स समेत 384 मेडिकल स्टॉफ कोरोना संक्रमित. (प्रतीकात्मक)

Treatment of Coronavirus: कोविड-19 से पीड़ित सामान्य मरीजों को घर में देखभाल करने की सलाह दी जा रही है. ऐसे में टाटा मेमोरियल के निदेशक डॉक्टर सीएस प्रमेश ने बताया है कि अगर आप कोविड-19 का शिकार हो चुके हैं, तो इन दवाइयों की मदद ले सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 1:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूरा भारत कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर (Second Wave) का सामना कर रहा है. पहली लहर की तुलना में देखें, हालात ज्यादा गंभीर नजर आ रहे हैं. देश के कई हिस्सों में स्वास्थ्य व्यवस्था बिगड़ने की खबरें आ रही हैं. ऐसे में कोरोना वायरस का सामना करना और भी मुश्किल हो गया है. लोगों के मन में अब बीमारी से ज्यादा डर इलाज न मिलने का है. ऐसे में कोरोना को लेकर दहशत और बढ़ गई है.

अब सरकार ने ऐलान कर दिया है कि आगामी 1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके अलावा भी सरकार हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर और दूसरी स्वास्थ्य सुविधाओं को सुधारने की कोशिश में लगी हुई है. इस बीच जानकारों की तरफ से कोविड-19 से पीड़ित सामान्य मरीजों को घर में देखभाल करने की सलाह दी जा रही है. ऐसे में टाटा मेमोरियल के निदेशक डॉक्टर सीएस प्रमेश ने बताया है कि अगर आप कोविड-19 का शिकार हो चुके हैं, तो इन दवाइयों की मदद ले सकते हैं.

Youtube Video


अगर आपको कोविड-19 है, तो आपको कौनसी दवा लेनी चाहिए?
अगर आपकी ऑक्सीजन ठीक है और आपको बुखार के अलावा कोई लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं, तो आपको केवल पैरासीटामॉल की जरूरत है. कुछ डेटा बताता है कि Budesonide सूंघने से आपको तेजी से ठीक होने में मदद मिलती है. इस बात की सलाह देने का कोई भी सबूत नहीं है कि Favipiravir/Ivermectin समेत कोई भी चीज मददगार हो सकती है. अपना समय इन्हें जुटानें में खराब न करें.

यह भी पढ़ें: COVID-19 vaccination: बाजार में 700 से 1000 रुपये में मिल सकती है कोरोना वैक्सीन, कीमतों का जल्द होगा ऐलान

कौन सी दवा कोविड-19 में एकदम मददगार है?



दुर्भाग्य से ऐसी दवाएं काफी कम हैं. जब सेच्युरेशन कम होगा, तो प्रोनिंग और ऑक्सिजन काम करेगा. वहीं, मध्यम से गंभीर बीमारी के लिए स्टेरॉयड्स (डेक्सामीथासॉन) काम करेगा.

Remdesivir, Tocilizumab और Convalescent Plasma का क्या?

Remdesivir सभी मरीजों में काम नहीं करती है. यह शायद उन लोगों पर काम करती है, जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत हो, लेकिन वे इतने बीमार न हों कि वेंटिलेशन की जरूरत पड़े. यहां भी यह मृत्युदर कम नहीं करती है, शायद जल्दी स्वस्थ होने में मदद करती है.

Tocilizumab भी केवल खास उपसमूहों पर काम करती है. इनमें वे लोग शामिल हैं, जिन्हें ऑक्सीजन के तेजी से बढ़ते स्तर की जरूरत है या जिनके सांस लेने की परेशानी बढ़ती जा रही है.

कोविड-19 मरीज पर Convalescent Plasma के उपयोग का समर्थन करने के सबूत काफी कम हैं. अभी तक की गई लगभग सभी स्टडीज बताती हैं कि इसका कोई फायदा नहीं है.



फिजिशियन को तय करने दें

डॉक्टर सलाह देते हैं कि Remdesivir, Tocilizumab का इस्तेमाल कब किया जाना, यह फिजिशियन को तय करने दें. बहुत ही सीमित हालात हैं, जहां ये काम करती हैं और इन्हें लिखने के लिए फिजिशियन पर दबाव न बनाएं. उन्होंने कहा कि बेवजह इस दवाई को लिखे जाने के कारण भी इनकी कमी होने का कारण है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज