लाइव टीवी

नजरबंदी में पूर्व CM उमर अब्दुल्ला का ऐसा हो गया हाल, सामने आई चौंकाने वाली तस्वीर

News18Hindi
Updated: October 15, 2019, 6:26 PM IST
नजरबंदी में पूर्व CM उमर अब्दुल्ला का ऐसा हो गया हाल, सामने आई चौंकाने वाली तस्वीर
उमर अब्दुल्ला पिछले करीब 2 महीने से नजरबंद हैं. (File Photo)

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को समाप्त करने के केंद्र सरकार के पांच अगस्त के फैसले के बाद पहली बार उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) की तस्वीर सामने आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 6:26 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से अनच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से ही राज्य के तमाम नेता नजरबंद हैं. इन नेताओं में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शेख अब्दुल्ला (Sheikh Abdullah), उनके बेटे और नेशनल कांफ्रेंस (National Conference) के अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती (PDP Chief Mehbooba Mufti) सहित कई नेता 5 अगस्त से ही हिरासत में हैं. ऐसे में राज्य के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला की चौंकाने वाली तस्वीर सामने आई है.

इस तस्वीर में उमर अब्दुल्ला अपने चित-परिचित अंदाज से एकदम अलग नजर आ रहे हैं. तस्वीर में उमर अब्दुल्ला की दाढ़ी बढ़ी हुई दिखाई दे रही है. वहीं उनके बाल भी काफी छोटे नजर आ रहे हैं. तस्वीर में उमर के दाढ़ी-बाल दोनों ही सफेद नजर आ रहे हैं.

omar abdullah
हिरासत में लिए जाने के 2 महीने के बाद उमर अब्दुल्ला की तस्वीर सामने आई है. (Photo Credit- News18 Urdu)




वहीं पुलिस ने मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला की बेटी और बहन समेत छह महिलाओं को हिरासत में ले लिया. अधिकारियों ने बताया कि ये महिलाएं जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने और राज्य को दो संघ शासित प्रदेशों में बांटने के विरोध में प्रदर्शन कर रही थीं.



हजार से ज्यादा लोग थे हिरासत में
गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को समाप्त करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के केंद्र सरकार के पांच अगस्त के फैसले के बाद नेताओं, अलगाववादियों, कार्यकर्ताओं और वकीलों समेत हजार से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया था. इनमें तीन पूर्व मुख्यमंत्री- फारुख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती शामिल हैं.

करीब 250 लोग जम्मू-कश्मीर के बाहर जेल भेजे गए. फारुक अब्दुल्ला को बाद में लोक सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में लिया गया जबकि अन्य नेताओं को दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) के तहत हिरासत में लिया गया.

राज्य में पोस्टपेड सेवा बहाल 
कश्मीर में सोमवार मध्याह्न को 72 दिनों बाद पोस्टपेड मोबाइल सेवा बहाल कर दी गयी थी जबकि इंटरनेट अभी भी बंद है. अधिकारियों ने बताया कि शाम 5 बजे एसएमएस सेवा बंद कर दी गयी. 40 लाख उपभोक्ताओं की पोस्ट पेड मोबाइल सेवा शुरू होने की खुशी ज्यादा देर तक टिक नहीं सकी क्योंकि प्रतिबंध की अवधि में मोबाइल का बिल जमा न होने के कारण हजारों उपभोक्ताओं को सेवा से वंचित रहना पड़ा.

ये भी पढ़ें-
फारूक अब्दुल्ला की बहन-बेटी हिरासत में, Article 370 को लेकर कर रही थीं विरोध

एनआईटी श्रीनगर के 74 दिन बाद खुलने पर भी छात्र लौटने को तैयार नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 5:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading