अपना शहर चुनें

States

कोरोना से बचाव की कोशिश में वेंटिलेटर पर पहुंचा यह शख्स, जानें क्या है पूरा मामला

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

Corona Virus: ल्यूक विलियमसन (Luke Williamson) हर रोज 4-5 लीटर पानी पीने लगे थे. उन्होंने यह नियम कई दिनों तक फॉलो किया. उनके इस रुटीन की वजह से हालत इतनी खराब हो गई कि वे अचानक गिर पड़े. ल्यूक की उम्र 34 साल है और वे एक सरकारी कर्मचारी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 30, 2020, 2:58 PM IST
  • Share this:
लंदन. कोरोना वायरस (Corona Virus) की शुरुआत के बाद से ही सभी लोग इससे बचाव में लग गए थे. मास्क (Mask), सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) और हाईजीन के अलावा भी हम कई उपाय करने में लगे हुए थे. इसी दौरान कई इलाज चर्चा में आए, जैसे- तांबे का इस्तेमाल या ज्यादा पानी पीना. ऐसे ही एक तरीके का इस्तेमाल करने वाले शख्स हैं ल्यूक विलियमसन (Luke Williamson). जिन्होंने खुद को वायरस से बचाने की कोशिश में अनजाने में नई परेशानी को गले लगा लिया. हालांकि, अब उनकी हालत ठीक है.

दरअसल, इंग्लैंड के रहने वाले ल्यूक विलियमसन को लगा कि वे भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं. इस वायरस से बचने के लिए उन्होंने रोज पानी पीने की मात्रा दोगुनी कर दी. आमतौर पर 1-2 लीटर पानी इंसान के लिए पर्याप्त होता है, लेकिन ल्यूक हर रोज 4-5 लीटर पानी पीने लगे थे. उन्होंने यह नियम कई दिनों तक फॉलो किया. उनके इस रुटीन की वजह से हालत इतनी खराब हो गई कि वे अचानक गिर पड़े. ल्यूक की उम्र 34 साल है और वे एक सरकारी कर्मचारी हैं.

यह भी पढ़ें: भारत में कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमित मिले 14 और लोग, अकेले दिल्ली में 8 मरीज



ल्यूक की पत्नी बताती हैं कि वे शाम को नहाने गए और बाथरूम में ही गिर गए. उन्होंने बताया 'मैं लॉकडाउन (Lockdown) के चलते किसी पड़ोसी की मदद नहीं ले पाई. मैंने एंबुलेंस को बुलाया तो वह 45 मिनट आई.' वह बताती हैं 'एंबुलेंस के आने के 20 मिनट पहले तक ल्यूक बेहोश थे, जिसकी वजह से मुझे काफी घबराहट हो रही थी.'

डॉक्टर ने क्या कहा
अचानक गिरने के बाद ल्यूक बेहोश हो गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. यहां जब डॉक्टर ने जांच की तो पाया कि ल्यूक के शरीर में ज्यादा पानी पीने के कारण नमक का स्तर काफी कम हो गया था. ल्यूक की पत्नी ने बातया कि डॉक्टर ने कहा कि वे काफी दिनों से ज्यादा पानी पी रहे हैं, जिसके चलते उनका साल्ट लेवल कम हुआ और तबियत इतनी बिगड़ गई. इस दौरान उन्हें आईसीयू में रखा गया था. हालात इतने बिगड़ गए थे कि ल्यूक वेंटिलेटर पर पहुंच गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज