लाइव टीवी

आतंकी हमले की धमकी के बीच अमरनाथ यात्रा का पहला जत्था हुआ रवाना

News18Hindi
Updated: June 30, 2019, 2:58 PM IST

यह यात्रा अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदेरबल जिले के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से होती है.

  • Share this:
आतंकी हमले की धमकी के बीच अमरनाथ श्रद्धालुओं का पहला जत्था आज कड़ी सुरक्षा के बीच रवाना होगा. अमरानाथ जाने वाले भक्तों की सुरक्षा के आवश्यक प्रबंध कर लिए गए हैं. अधिकारियों ने बताया कि अब तक देश भर से करीब डेढ़ लाख श्रद्धालुओं ने 46 दिन चलने वाली यात्रा के लिए पंजीकरण कराया है.

यह यात्रा अनंतनाग जिले के 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गांदेरबल जिले के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग से होती है. साधुओं समेत सैकड़ों श्रद्धालु जम्मू पहुंचना शुरू हो गए हैं और तीर्थयात्रा को लेकर काफी उत्साहित हैं. जम्मू के मंडल आयुक्त संजीव वर्मा ने बताया कि तीर्थयात्रियों की सुविधा और यात्रा के दौरान उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी जरूरी प्रबंध कर लिए गए हैं. यात्रा 15 अगस्त को खत्म होगी.



इसे भी पढ़ें :- Amarnath Yatra: रेलवे का खास तोहफा, इस दिन से शुरू होगी स्पेशल ट्रेन
Loading...

जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक एम. के. सिन्हा ने कहा कि खतरे की आशंका के मद्देनजर यात्रा मार्ग पर लखनपुर (जम्मू-कश्मीर के लिए प्रवेश द्वार) से लेकर आधार शिविरों, आश्रय केंद्रों, ठहराव स्थानों और सामुदायिक किचन स्थानों पर पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं. उन्होंने कहा कि यात्रा को अवरोधित करने की आतंकवादियों की किसी योजना को लेकर खुफिया जानकारी नहीं है लेकिन राज्य के वर्तमान सुरक्षा परिदृश्य को देखते हुए राष्ट्र विरोधी तत्वों के किसी भी प्रयास को विफल करने के लिए सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं.

इसे भी पढ़ें :- अमरनाथ यात्रा पर हमले का है अलर्ट, गृह मंत्री अमित शाह कड़ी सुरक्षा में जाएंगे कश्मीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 30, 2019, 8:13 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...