• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • गुजरात: गिर अभयारण्य में 10 दिन में 11 शेरों की रहस्यमय मौत

गुजरात: गिर अभयारण्य में 10 दिन में 11 शेरों की रहस्यमय मौत

गिर के शेर ( फाइल फोटो)

गिर के शेर ( फाइल फोटो)

एशियाई शेरों का अकेला ठिकाना है गिर अभयारण्य, पिछले दो सालों में मर चुके हैं 184 शेर, और शेरों के मरने के अंदेशे की भी की जा रही है जांच

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    विजयसिंह परमार
    गिर अभयारण्य में एक ही जगह से पिछले 10 दिनों के दौरान 11 मरे हुए शेर मिलने से वन्यजीव संरक्षकों की पेशानी पर बल पड़े हुए हैं. गिर अभयारण्य एशियाई शेरों का अकेले ठिकाना है, क्योंकि अब दुनिया भर में इस प्रजाति का इस तरह का कोई घर नहीं रह गया है. इससे पहले तीन शेरों के अवशेष मिले थे खोजबीन करने पर यह आंकड़ा 11 तक पहुंच गया.

    ये भी देंखें : गिर के जंगल में मुर्गी दिखाकर शेरनी को तंग करने वाले को नहीं मिली जमानत

    सूत्रों के मुताबिक ये संख्या बढ़ भी सकती है. इस अंदेशे पर वन विभाग के अधिकारी अभयारण्य में छानबीन भी कर रहे हैं.गिर पूर्वी डिविजन के उप वन संरक्षक पी पुरुषोत्तमा ने न्यूज18 से 10 शेरों के मरने की पुष्टि की.

    उन्होंने बताया-“ दलखानिया इलाके से तीन शेरों के अवशेष मिले हैं. ये खराब हालत में हैं और अभी हम जांच कर रहे हैं कि कौन नर के हैं और कौन मादा. वन विभाग पूरे इलाके की भी जांच कर रहा है. अभी तो लग रहा है कि ये शेर स्वाभाविक तौर से मरे हैं, फिर भी हम पूरी जांच कर रहे हैं.”

    वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक शेरों के अवशेष से लग रहा है कि वे एक से सात साल के बीच की आयु के होंगे. पूरी दुनिया में इस प्रजाति के एशियाई शेर  सिर्फ यही अभयारण्य में सुरक्षित रखे गए हैं. 2015 की गणना के मुताबिक यहां पर 523 शेर हैं.

    ये भी देखें : गिर के जंगल में एक साथ प्यास बुझाने पहुंची शेरों की टोली

    इस साल मार्च में गुजरात हाईकोर्ट ने गिर में शेरों के दुर्घटनाओं में मारने को खुद ही अपने संज्ञान में लिया था. पिछले दो सालों में यहां 184 शेर मर चुके हैं. इसी साल गुजरात विधान सभा में दी गई संख्या के मुताबिक 31 दिसंबर 2017 तक यहां मौजूद बड़े बिलाड़ प्रजाति के कुल 365 की मौत हो चुकी है. इनमें शेर, शेरनी और शावक और तेंदुए सभी शामिल है. एक सवाल पर सरकार ने इस साल मार्च में बताया था कि इस संख्या में 110 शेर या शावक और 74 शेरनियां शामिल हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज