Assembly Banner 2021

असम विधानसभा चुनाव के लिए तीन विशेष केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त

असम चुनाव के लिए तीन विशेष केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किये हैं.

असम चुनाव के लिए तीन विशेष केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किये हैं.

चुनाव आयोग ने असम विधानसभा चुनाव के लिए सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सुदर्शन श्रीनिवासन को विशेष सामान्य पर्यवेक्षक, पूर्व आईपीएस अधिकारी अशोक कुमार को विशेष पुलिस पर्यवेक्षक और पूर्व आईआरएस अधिकारी नीना निगम को विशेष व्यय पर्यवेक्षक नियुक्त किया है. राज्य में 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में चुनाव होने हैं. मतगणना दो मई को होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 8:57 PM IST
  • Share this:
गुवाहाटी. चुनाव आयोग ने असम विधानसभा चुनाव के लिए तीन विशेष केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किये हैं. मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) कार्यालय से यहां जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई. बयान के मुताबिक, सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सुदर्शन श्रीनिवासन को विशेष सामान्य पर्यवेक्षक, जबकि पूर्व आईपीएस अधिकारी अशोक कुमार को विशेष पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है. बयान के मुताबिक, पूर्व आईआरएस अधिकारी नीना निगम को विशेष व्यय पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है.

चुनाव आयोग ने अब तक कुल 90 सामान्य, 31 पुलिस और 53 व्यय पर्यवेक्षक नियुक्त किये हैं. राज्य की 126 सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में चुनाव होने हैं. मतगणना दो मई को होगी.

ये भी पढ़ें :- असम विधानसभा चुनाव: 16 प्रतिशत प्रत्याशियों के खिलाफ दर्ज हैं आपराधिक मामले



चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में 295 एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर्स की नियुक्ति की
चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में काले धन के इस्तेमाल पर रोक और निगरानी रखने के लिए 295 एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर्स की नियुक्ति की है. पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में चुनाव आयोग ने पिछली बार की जब्ती का रिकॉर्ड पहले चरण के मतदान से पहले ही तोड़ दिया. चुनाव आयोग ने अब तक कुल 331 करोड़ की नकदी, शराब और दूसरी वस्तुओं को ज़ब्त किया है. पिछली बार यानी 2016 में चुनाव आयोग ने 225 करोड़ की नकदी, शराब और ड्रग्स और दूसरी वस्तुएं बरामद की थीं.

Youtube Video


ये भी पढ़ें :- Assam Assembly Elections: असम चुनावों के लिए बीजेपी का खास प्लान- विकास, सुरक्षा होंगे खास मुद्दे

जबकि अभी चुनाव की पूरी प्रक्रिया में डेढ़ महीने का वक्त बाकी है, लेकिन पांचों राज्यों से 331 करोड़ रुपये की नकदी, शराब, ड्रग्स की जब्त हुई है. चुनाव आयोग ने सबसे अधिक बरामदगी तमिलनाडु से की है. तमिलनाडु से अब तक 127 करोड़ रुपये की जब्ती की गई, जबकि दूसरे नंबर पर बंगाल से 112 करोड़ की जब्ती चुनाव आयोग ने की है. असम से चुनाव आयोग ने करीब 64 करोड़ की जब्ती की है, जबकि केरल से करीब 22 करोड़ की जब्ती हुई है अब तक.

चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में काले धन के इस्तेमाल पर रोक और निगरानी रखने के लिए 295 एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर्स की नियुक्ति की है. चुनाव आयोग ने पांच राज्यों के लिए पांच स्पेशल एक्सपेंडिचर ऑब्जर्वर को भी नियुक्त किया है. पांच राज्यों की कुल 259 विधानसभा क्षेत्रों को एक्सपेंडिचर संवेदनशील क्षेत्र के तौर पर चिह्नित किया है जहां धन, शराब और ड्रग्स का इस्तेमाल ज्यादा हो सकता है. चुनाव आयोग कि इन सभी सीटों पर पैनी नजर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज