लाइव टीवी

अनुच्छेद 370 हटने के बाद जागरुकता अभियान के लिए जम्मू पहुंचे 3 केंद्रीय मंत्री

News18Hindi
Updated: January 18, 2020, 11:08 PM IST
अनुच्छेद 370 हटने के बाद जागरुकता अभियान के लिए जम्मू पहुंचे 3 केंद्रीय मंत्री
कश्मीर में तैनात सुरक्षाबल के जवान (सांकेतिक फोटो)

अर्जुन मेघवाल, अश्विनी चौबे और जितेंद्र सिंह (Jitendra Singh) को सुबह यहां पहुंचना था लेकिन कोहरे (Fog) की वजह से दृश्यता घट जाने के चलते उनकी उड़ान यहां नहीं उतर सकी और उसे श्रीनगर (Srinagar) भेज दिया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2020, 11:08 PM IST
  • Share this:
जम्मू. तीन केंद्रीय मंत्री अनुच्छेद 370 (Article 370) के हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) का विशेष दर्जा (Special Status) हट जाने के बाद होने वाले लाभों के बारे में लोगों को अवगत कराने के लिए केंद्र का सप्ताह भर का व्यापक जागरूकता अभियान प्रारंभ करने शनिवार को यहां पहुंचे. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

अधिकारियों ने बताया कि तीन मंत्रियों- अर्जुन मेघवाल, अश्विनी चौबे और जितेंद्र सिंह (Jitendra Singh) को सुबह यहां पहुंचना था लेकिन कोहरे की वजह से दृश्यता घट जाने के चलते उनकी उड़ान यहां नहीं उतर सकी और उसे श्रीनगर (Srinagar) भेज दिया गया.

36 केंद्रीय मंत्रियों के अगले 6 दिनों में आने का है प्रोग्राम
श्रीनगर (Srinagar) में कई घंटे तक इंतजार करने के बाद इस जागरूकता अभियान को शुरू करने के लिए वे शाम को यहां पहुंचे. उसके तहत 36 केंद्रीय मंत्री अगले छह दिनों के दौरान लोगों से संवाद करने के लिए इस केंद्रशासित प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में जायेंगे.

जम्मू कश्मीर सरकार के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने यहां संवाददाताओं से कहा कि इस कार्यक्रम के तहत इस सप्ताह जम्मू कश्मीर आ रहे 36 मंत्री इस केंद्रशासित प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर 60 सार्वजनिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे.

केंद्र सरकार की 55 योजनाओं का जम्मू-कश्मीर के सभी बाशिंदों को मिलेगा लाभ
सरकार के प्रवक्ता कंसल ने कहा कि यात्रा पर आने वाले मंत्री लोगों से संवाद करेंगे और उनसे विकास के विषय पर बातचीत करेंगे.उन्होंने कहा कि प्रशासन ने इस केंद्रशासित प्रदेश में लाभार्थी आधारित 55 योजनाओं का जम्मू कश्मीर के पात्र बाशिंदों के लिए शत प्रतिशत लागू करने का फैसला किया गया है.

विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने उठाए सवाल
सरकार के प्रवक्ता कंसल ने कहा, ‘‘ इसके अलावा तीव्र बुनियादी ढांचा विकास, प्रधानमंत्री विकास पैकेज, महत्वपूर्ण योजनाओं, ऐतिहासिक परियोजनाओं, सुशासन, कानून के राज, सभी के लिए समान अवसर, रोजागार एवं तीव्र आर्थिक वृद्धि के साथ तीव्र औद्योगिकी वृद्धि और सभी के लिए आय वृद्धि पर बल दिया जाएगा.

सरकार के संपर्क अभियान कार्यक्रम पर नेशनल पैंथर्स पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मंत्री हर्षदेव सिंह ने सवाल किया कि केंद्रीय मंत्रियों के सामूहिक मार्च से नये केंद्रशासित प्रदेश (UT) के लोगों को कैसे फायदा होगा.

यह भी पढ़ें: पूर्व PDP नेता ने अनुच्छेद 370 हटने के बाद कोई मौत न होने पर सरकार को दी बधाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 11:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर