लॉकडाउन के बाद जैसे ही चालू हुई उड़ानें, लोगों ने जमकर किया सफर, चौंका देंगे आंकड़े

लॉकडाउन के बाद जैसे ही चालू हुई उड़ानें, लोगों ने जमकर किया सफर, चौंका देंगे आंकड़े
सांकेतिक तस्वीर

लॉकडाउन के बाद जैसे ही घरेलू उड़ानों का परिचालन दोबारा से शुरू किया गया, आम लोगों ने जमकर सफर किया. रविवार को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने इसके बारे में पूरी जानकारी दी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण लगे लॉकडाउन (Lockdown) के कारण सभी घरेलू उड़ानों (Domestic Flights) को रद्द कर दिया था. लेकिन लॉकडाउन के बाद जैसे ही घरेलू उड़ानों का परिचालन दोबारा से शुरू किया गया, आम लोगों ने जमकर सफर किया. रविवार को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने बताया कि शनिवार को हमने 75,000 का आंकड़ा पार किया जो घरेलू यात्रियों की संख्या में धीमी और स्थिर वृद्धि का संकेत है.

हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) के अनुसार, चार जुलाई को रात 23:59 बजे तक कुल उड़ानों की आवाजाही 1,560, हवाई अड्डों पर पहुंचे ग्राहकों की संख्या 1,53,547 और यात्रियों की कुल संख्या 76,104 है. एयर फेयर के संदर्भ में उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लगाए गए ऊपरी और निचले सीमा को 24 अगस्त से आगे बढ़ाया जा सकता है. 21 मई को कहा गया था कि ये सीमाएं तीन महीने की अवधि के लिए होगी.


22 मार्च को लगाई गई थी घरेलू उड़ानों पर रोक
उल्लेखनीय है कि भारत ने कोरोना वायरस के मद्देनजर 22 मार्च को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. इसके बाद घरेलू उड़ानों पर भी रोक लगाई गई थी. कुछ सीमित रूटों पर घरेलू उड़ानों को 25 मई से इजाजत दे दी गई लेकिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध जारी है. छह मई को वंदे भारत मिशन की शुरुआत हुई, जिसके तहत विदेश में फंसे भारतीयों को वापस लाया जा रहा है.



इन राज्यों ने घरेलू उड़ानों को रखा सीमित
पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना और तमिलनाडु राज्यों में दैनिक घरेलू उड़ानों की संख्या सीमित रखी गई है क्योंकि ये राज्य नहीं चाहते हैं कि COVID-19 मामलों की बढ़ती संख्या के बीच ज्यादा यात्रियों का आवागमन हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading