Assembly Banner 2021

कोरोना वैक्सीनेशन के लिए समयसीमा खत्म, अब चौबीसों घंटे होगा टीकाकरण : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

 स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

देश भर में कोविड-19 टीके की अब तक 1.54 करोड़ खुराक लाभार्थियों को दी गई हैं. कोविड-19 का राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने के साथ शुरू हुआ था.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन (Harshvardhan) ने कहा है कि सरकार ने कोरोना रोधी टीके लगाने की रफ्तार बढ़ाने के लिए समयसीमा खत्म कर दी है. अब नागरिक चौबीस घंटे सातों दिन अपनी सुविधानसुसार टीके लगवा सकते हैं. इससे पहले जब 1 मार्च से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होने वाला था तब हर केंद्र पर सुबह 9 बजे से दोपहर तीन बजे तक का समय वैक्सीनेशन के लिए फिक्स था.

स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट किया कि सरकार ने वैक्सीनेशन की रफ़्तार बढ़ाने के लिए समय की बाध्यता समाप्त कर दी है. देश के नागरिक अब 24x7अपनी सुविधानुसार टीका लगवा सकते हैं. पीएम नरेंद्र मोदी देश के नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके समय की कीमत बखूबी समझते हैं.

कोविड-19 टीके की अब तक 1.54 करोड़ खुराक दी गई :सरकार




देश भर में कोविड-19 टीके की अब तक 1.54 करोड़ खुराक लाभार्थियों को दी गई है. इस आंकड़े में मंगलवार को दी गई 6,09,845 खुराक भी शामिल हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने अस्थायी आंकड़े में यह जानकारी दी. कोविड-19 का राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने के साथ शुरू हुआ था. वहीं, अग्रिम मोर्चे के कर्मियों का टीकाकरण दो फरवरी से शुरू हुआ था.

इसके बाद, एक मार्च से 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू हुआ है. मंत्रालय ने कहा कि शाम सात बजे तक के अस्थायी आंकड़े के मुताबिक अब तक टीके की कुल 1,54,61,864 खुराक दी जा चुकी हैं.

इनमें 60 वर्ष से अधिक आयु के 4,34,981 लाभार्थी और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष से अधिक उम्र के 60,020 लाभार्थी भी शामिल हैं. मंत्रालय के अस्थायी आंकड़ों के मुताबिक टीकाकरण के 46वें दिन मंगलवार को शाम सात बजे तक कुल 6,09,845 लोगों को टीके की खुराक दी गई. इनमें 5,21,101 लाभार्थियों को पहली खुराक दी गई, जबकि 88,744 स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम मोर्चे के कर्मियों को दूसरी खुराक दी गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज