तिरुपति मंदिर में दर्शन के लिए भक्तों की लंबी कतार, एक ही दिन में आया 25 लाख से ज्यादा का दान

तिरुपति मंदिर में दर्शन के लिए भक्तों की लंबी कतार, एक ही दिन में आया 25 लाख से ज्यादा का दान
बता दें कि इससे पहले तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (Tirumala Tirupati Devastam) खोले जाने से पहले टिकटों की बिक्री के पहले दिन राज्य भर में काउंटरों पर श्रद्धालुओं (Devotees) की लंबी कतारें देखी गई थीं.

बता दें कि इससे पहले तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (Tirumala Tirupati Devastam) खोले जाने से पहले टिकटों की बिक्री के पहले दिन राज्य भर में काउंटरों पर श्रद्धालुओं (Devotees) की लंबी कतारें देखी गई थीं.

  • Share this:
तिरुपति. तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (Tirumala Tirupati Devastam) ने सोमवार को हुंडी संग्रह के तौर पर 25.7 लाख रुपये प्राप्त किए. 83 दिन के लॉकडाउन (Lockdown) के बाद मंदिर को 8 जून से श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिया गया था. लेकिन शुरुआती तीन दिन केवल यहां के कर्मचारियों और स्थानीय लोगों के लिए थे. इसके बाद से मंदिर (Temple) को 11 जून से आम श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा. जिसके बाद सभी भगवान बालाजी (Lord Balaji) के दर्शन कर सकेंगे.

बता दें कि इससे पहले तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (Tirumala Tirupati Devastam) खोले जाने से पहले काउंटरों पर टिकटों की बिक्री के पहले दिन राज्य भर में श्रद्धालुओं (Devotees) की लंबी कतारें देखी गई थीं. सवेरे 8 बजे से टिकट की बिक्री राज्य के सारे काउंटर पर चालू की. 11 तारीख के टिकट कुछ ही घंटों में बिक गए थे, जिसके बाद आंध्र प्रदेश सरकार (Andhra Pradesh Government) ने 12 तारीख के टिकट बेचने का भी फैसला किया था. मंदिर प्रशासन के अनुसार मंगलवार तक 9 हजार टिकट बेचे जा चुके थे.

दर्शन से पहले श्रद्धालुओं को करना होगा इन नियमों का पालन
बताया गया है कि सभी श्रद्धालुओं को मास्क (Mask) पहनने होंगे और कतार में लगने से पहले सैनेटाइज करना जरूरी होगा. TTD ने मंदिर परिसर को स्पर्श-मुक्त परिसर में बदल दिया है. जब तीर्थयात्री दर्शन लाइनों में आएंगे, तो उन्हें किसी भी चीज के लिए कहीं भी छूने की जरूरत नहीं होगी. और भक्तों को दर्शन लाइनों में कम से कम 5-6 फीट का अंतर बनाए रखना होगा. मंदिर खुलने के बाद की कुछ फोटो भी सामने आई हैं, जिनमें भक्त तिरुपति बालाजी मंदिर में अपने बाल दान करते हुए दिखाई दे रहे हैं.
देश के सबसे अमीर मंदिरों में होती है मंदिर की गिनती


कोविड-19 महामारी के चलते तिरुपति मंदिर 20 मार्च से बंद था. बता दें कि तिरुपति मंदिर को देश के सबसे अमीर मंदिर निकायों में से एक माना जाता है. हर महीने औसतन 200 करोड़ रुपये का राजस्व यहां मंदिर के पास आता है. जो लॉकडाउन (Lockdown) के बाद से बंद हो गया था.

यह भी पढ़ें:- अल-क़ायदा के निशाने पर भारतीय सुरक्षा एजेंसी, लोन-वुल्फ अटैक कर सकते हैं आतंकी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज