TMC ने पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को बनाया उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यसमिति में भी दी जगह

पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा टीएमसी में हुए शामिल.

West Bengal Assembly Elections 2021: तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) में शामिल होने के बाद बीजेपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्‍हा (Yashvant Sinha) ने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को रियल फाइटर कहा था.

  • Share this:
    कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से ठीक पहले तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) में शामिल हुए पूर्व बीजेपी नेता यशवंत सिन्‍हा (Yashvant Sinha) को पार्टी ने राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष की जिम्‍मेदारी सौंपी है. इसके साथ ही पार्टी की ओर से सिन्‍हा को नेशनल वर्किंग कमेटी में भी शामिल किया गया है. बता दें कि टीएमसी में शामिल होने के बाद यशवंत सिन्‍हा ने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को रियल फाइटर कहा था. यशवंत सिन्हा ने कहा था कि दीदी पर हुए हमले के बाद ही उन्होंने तय कर लिया था कि अब वह ममता बनर्जी के साथ खड़े रहेंगे. हालांकि चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी पर हमले की बात को खारिज किया है.

    टीएमसी में शामिल होने के बाद सिन्हा ने कंधार हाईजैक को लेकर बड़ा खुलासा किया है. सिन्हा ने कहा कि ममता बनर्जी ने कंधार हाईजैक के समय उन्होंने बाकी बंदियों के बदले खुद को बंदी बनाने का भी प्रस्ताव रखा था.

    West Bengal, West Bengal Assembly Elections, Trinamool Congress, Yashwant Sinha, Mamata Banerjee

    सिन्हा ने कहा, "ममता जी और मैंने अटल जी की सरकार में मिलकर काम किया और वह शुरू से ही फाइटर रही हैं. कंधार हाईजैक के समय भी उन्होंने आतंकियों की गिरफ्त में कैद लोगों के बदले खुद को समर्पित करने का मन बना लिया था और देश के लिए जो कुर्बानी देनी पड़ेगी, वह उसे देने के लिए भी तैयार हैं."

    इसे भी पढ़ें :- कंधार हाईजैक के समय देश के लिए कुर्बान होने को तैयार थीं ममता बनर्जी: यशवंत सिन्हा

    बता दें सिन्हा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्रिमंडल में कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी निभा चुके हैं, लेकिन भगवा पार्टी के नेतृत्व से मतभेदों के चलते वर्ष 2018 में उन्होंने भाजपा छोड़ दी. उनके बेटे जयंत सिन्हा झारखंड के हजारीबाग से भाजपा के लोकसभा सदस्य हैं. सिन्हा ने कहा, 'देश अजीब परिस्थिति से गुजर रहा है, हमारे मूल्य और सिद्धांत खतरे में हैं.' उन्होंने कहा, 'लोकतंत्र की मजबूती संस्थाओं में निहित है और सभी संस्थाओं को व्यवस्थागत तरीके से कमजोर किया जा रहा है.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.