होम /न्यूज /राष्ट्र /मां काली पर सांसद महुआ मोइत्रा के विवादित बयान से हंगामा, TMC ने झाड़ा पल्ला, बीजेपी ने की कार्रवाई की मांग

मां काली पर सांसद महुआ मोइत्रा के विवादित बयान से हंगामा, TMC ने झाड़ा पल्ला, बीजेपी ने की कार्रवाई की मांग

तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा और टीएमसी चीफ ममता बनर्जी (File Photo)

तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा और टीएमसी चीफ ममता बनर्जी (File Photo)

Goddess Kali News: फिल्मकार लीना मणिमेकलाई ने गत दो जुलाई को 'काली' फिल्म का पोस्टर सोशल मीडिया पर साझा किया था. इस पोस ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. मां काली पर सांसद महुआ मोइत्रा के विवादित बयान की तृणमूल कांग्रेस ने मंगलवार को निंदा की और कहा कि पार्टी कहीं से भी इसका समर्थन नहीं करती है. दरअसल, कृष्णानगर से सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा कि उनके लिए मां काली मांस खाने और शराब पीने वाली देवी हैं. उनसे ‘काली’ फिल्म के पोस्टर से उठे विवाद को लेकर एक सवाल पूछा गया था, जिसके जवाब में उन्होंने यह प्रतिक्रिया दी. बंगाल में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदू अधिकारी ने भी इस मामले में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कार्रवाई करने की मांग की है.

गौरतलब है कि फिल्मकार लीना मणिमेकलाई ने गत दो जुलाई को ‘काली’ फिल्म का पोस्टर सोशल मीडिया पर साझा किया था. इस पोस्टर में मां काली का रूप धारण किये महिला को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है. इसके अलावा इसमें कुछ अन्य आपत्तिजनक चीजें भी हैं. इस पोस्टर का व्यापक स्तर पर विरोध हो रहा है.

News18 Hindi

एक चैनल के कार्यक्रम में महुआ मोइत्रा ने फिल्मकार लीना मणिमेकलाई का बचाव किया और कहा कि हर किसी को अपनी तरीके से देवी-देवताओं को देखने और पूजा करने का अधिकार है. उन्होंने कहा, “महुआ मोइत्रा ने कहा कि भगवान को देखने का हर व्यक्ति का अपना अलग नजरिया होता है.”

दिल्ली पुलिस ने फिल्म निर्माता पर दर्ज किया मामला
इस बीच, अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली पुलिस ने फिल्मकार लीना मणिमेकलाई के खिलाफ उनके वृत्तचित्र ‘काली’ के विवादास्पद पोस्टर के संबंध में एक मामला दर्ज किया है. उन्होंने बताया कि एक वकील ने पुलिस के समक्ष दर्ज कराई गई शिकायत में आरोप लगाया था कि सोशल मीडिया पर एक पोस्टर का प्रचार हो रहा है, जिसमें ‘देवी काली को सिगरेट पीते’ हुए दिखाया गया है.

इन धाराओं के तहत केस
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शिकायत और सोशल मीडिया पोस्ट की सामग्री के आधार पर प्रथम दृष्टया भारतीय दंड संहिता की धारा के तहत 153ए (धार्मिक, नस्ल आदि के आधार पर दो समूहों में द्वेष को बढ़ावा देना) और धारा 295ए (जानबूझकर धर्म या उसकी मान्यताओं का अपमान कर धार्मिक भावना भड़काना) के तहत मामला बनता है. उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस की ‘इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रेटेजिक ऑपरेशन’ (आईएफएसओ) इकाई ने मणिमेकलाई के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना
इससे पहले, वृत्तचित्र ‘काली’ के पोस्टर पर काली मां को धूम्रपान करते और एलजीबीटीक्यू का झंडा थामे दिखाये जाने के कारण आलोचनाओं का शिकार हो रहीं फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलाई ने सोमवार को कहा था कि वह जब तब जिंदा हैं, तब तक बेखौफ अपनी आवाज बुलंद करती रहेंगी. ‘काली’ के पोस्टर की सोशल मीडिया मंचों पर कड़ी आलोचना की गई और विवाद बढ़ने के बाद हैशटैग ‘अरेस्ट लीना मणिमेकलाई’ भी ‘ट्रेंड’ करने लगा था. सोशल मीडिया पर इसका विरोध करने वालों का आरोप है कि फिल्म निर्माता धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा रही हैं.

‘जब तक जीवित हूं, मैं बेखौफ जीना चाहती हूं’
इस पूरे विवाद के बीच टोरंटो में रहने वाली निर्देशिका ने पलटवार करते हुए कहा कि वह (इसके लिए) अपनी जान तक देने को तैयार हैं. मणिमेकलाई ने इस विवाद को लेकर लिखे एक लेख के जवाब में ट्विटर पर तमिल भाषा में लिखा, ‘मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है. मैं जब तक जीवित हूं, मैं बेखौफ जीना चाहती हूं. अगर इसके लिए मुझे जान भी देनी पड़े, तो मैं वह भी देने को तैयार हूं.’

Tags: Mahua Moitra, TMC

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें