...जब PM मोदी ने ममता बनर्जी के भतीजे से पूछा, आपकी आंख की चोट कैसी है?

सभी सांसद पीएम मोदी से पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बंगाल करने की मांग को लेकर आए थे.

हाल ही में जब टीएमसी के सांसद एक प्रतिनिधिमंडल के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने गए तब पीएम उनसे बड़ी आत्मीयता से मिले, जिससे सांसद हैरान रह गए.

  • Share this:
टीएमसी और बीजेपी के बीच पश्चिम बंगाल में सियासी कटुता चरम पर है. हाल ही में संपन्‍न हुए लोकसभा चुनाव के दौरान दोनों दलों के बीच खूब जुबानी जंग हुई. यही नहीं, दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच कई दफा हिंसक झड़प भी हुई, जिसमें कई लोगों की जान भी जा चुकी है. दिल्ली से लेकर बंगाल तक दोनों दलों के बीच अक्सर गहमा गहमी भी होती रहती है और संसद में भी दोनों दलों के बीच छत्तीस का आंकड़ा है.

जब पीएम ने ममता बनर्जी के भतीजे से पूछा
हाल ही में जब टीएमसी के सांसद एक प्रतिनिधिमंडल के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने गए तब पीएम उनसे बड़ी आत्मीयता से मिले, जिससे सांसद हैरान रह गए.

हुआ यूं कि जैसे ही ये प्रतिनिधिमंडल पीएम से मिला तो पीएम ने सबका हाल चाल पूछा, लेकिन बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक से पीएम ने अचानक उनकी आंख की चोट का हाल पूछ लिया, जिसका जवाब उन्‍होंने यह कहकर दिया कि अब ठीक है. अभिषेक की आंख में लगभग एक साल पहले एक दुर्घटना के दौरान चोट लग गई थी. अचानक आये इस सवाल से अभिषेक अचंभित हो गए.

सुदीप बंधोपाध्याय से पूछी ये बात
पीएम ने सुदीप बंधोपाध्याय के साथ भी सफेद दाढ़ी को लेकर बातचीत की. दरअसल, सुदीप ने पीएम से कहा कि हम दोनों दाढ़ी रखते हैं जिस पर पीएम ने कहा कि लेकिन मैं लंबे वक्त से रख रहा हूं. इस पर सुदीप बोले मतलब हम दोनों लंबे समय से दाढ़ी रख रहे हैं,लेकिन अब दोनों की दाढ़ी सफेद हो गई है. सुदीप के नहले पर दहला मारते हुए पीएम ने कहा कि मेरी दाढ़ी आपसे लंबी है. अब बारी सुदीप की थी जिन्होंने कहा कि मेरी दाढ़ी भी लंबी थी, लेकिन आपसे मिलने आने से पहले आज ही मैंने छोटी कर दी.

अभिषेक की आंख में लगभग एक साल पहले एक दुर्घटना के दौरान चोट लग गई थी.


ये था मुलाकात का असली मकसद
पीएम मोदी और प्रतिनिधिमंडल की आपसी बातचीत से बैठक का माहौल खुशनुमा हो गया और टीएमसी के सांसद बड़े ही अच्छे माहौल में पीएम से बात करते रहे. जबकि ये सभी सांसद पीएम मोदी से पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बंगाल करने की मांग को लेकर आए थे.

ये भी पढ़ें-क्या आप जानते हैं फसल बीमा की ये शर्तें, यूपी के किसानों को ऐसे मिलेगा लाभ!

लखनऊ यूनिवर्सिटी में पढ़ाया जाएगा 'ट्रिपल तलाक', धर्मगुरुओं ने जताया ऐतराज

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.