भाजपा से TMC में 'घर वापसी' करने वाले मुकुल रॉय ने गृह मंत्रालय को लिखा पत्र, केंद्र से मिली सुरक्षा हटाने को कहा

तृणमूल कांग्रेस के नेता मुकुल रॉय. (एएनआई फाइल फोटो)

Mukul Roy Latest News: कभी तृणमूल में दूसरे सबसे प्रमुख नेता रहे मुकुल रॉय को नारद स्टिंग मामले में नाम आने के बाद फरवरी, 2015 में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के पद से हटा दिया गया था.

  • Share this:

    कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस के नेता मुकुल रॉय ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा है कि उन्हें दी गई केंद्रीय सुरक्षा वापस ले ली जाए. हालांकि मंत्रालय की ओर से अभी तक इसका जवाब नहीं दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से शनिवार को यह जानकारी दी.


    एक दिन पहले ही शुक्रवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय भगवा दल को जोरदार झटका देते हुए  अपने पुत्र शुभ्रांशु के साथ अपनी पुरानी पार्टी तृणमूल कांग्रेस में वापस लौट गए हैं. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य की सत्ताधारी पार्टी के अन्य नेताओं ने वापसी पर उनका स्वागत किया.


    पश्चिम बंगाल के बीजेपी सांसद का आरोप- ‘TMC के गुंडों ने किया हमला’


    ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल सांसद अभिषेक के हाल ही में शहर के एक अस्पताल में रॉय की पत्नी से मिलने के बाद उनकी संभावित घर वापसी को लेकर अटकलें तेज हो गई थीं. अभिषेक के दौरे के बाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन कर रॉय की पत्नी के स्वास्थ्य की जानकारी ली थी. राजनीतिक पर्यवेक्षकों के अनुसार प्रधानमंत्री का यह कदम रॉय को भाजपा में बनाए रखने का प्रयास था.


    गद्दारी करने वालों को पार्टी में नहीं लेंगे, बीजेपी से और लोग आएंगेः ममता बनर्जी


    हालांकि, उस समय रॉय ने भाजपा छोड़ने की किसी भी इच्छा से इनकार किया था, लेकिन उन्होंने चुनाव के बाद तृणमूल कांग्रेस समर्थकों की कथित हिंसा पर चर्चा के लिए भाजपा की राज्य इकाई की बैठक में भाग नहीं लिया था. कभी तृणमूल में दूसरे सबसे प्रमुख नेता रहे रॉय को नारद स्टिंग मामले में नाम आने के बाद फरवरी, 2015 में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के पद से हटा दिया गया था. वह नवंबर, 2017 में भाजपा में शामिल हुए थे.




    जाने-माने राजनीतिक विश्लेषक और कलकत्ता रिसर्च ग्रुप के सदस्य रजत रॉय ने कहा कि तृणमूल चुनिंदा लोगों को वापस लेगी. उन्होंने कहा कि इसका मकसद भाजपा को संगठनात्मक रूप से कमजोर करना होगा, लेकिन साथ ही पार्टी बहुत सारे दलबदलुओं को वापस नहीं लेना चाहेगी क्योंकि इसे असंतोष को पुरस्कृत किए जाने के तौर पर देखा जाएगा. उन्होंने कहा कि मुकुल रॉय का मामला विशेष है क्योंकि उनके बारे में कहा जाता है कि वह संगठन के लिहाज से अहम हैं.


    (इनपुट भाषा से भी)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.