Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बंगाल में टीएमसी कार्यकर्ता ने बीजेपी कार्यकर्ता को गोली मारी, जमीनी विवाद हो सकता है कारण

    बीजेपी कार्यकर्ता बंगाल में फूल व्यपारी हैं. (सांकेतिक तस्वीर)
    बीजेपी कार्यकर्ता बंगाल में फूल व्यपारी हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

    बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के एक कार्यकर्ता ने भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यकर्ता को गोली मार दी. हमले के पीछे राजनीति के अलावा जमीनी विवाद भी बड़ा कारण हो सकता है. फिलहाल घायल का इलाज जारी है और हालत स्थिर बनी हुई है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 25, 2020, 11:45 PM IST
    • Share this:
    हावड़ा. पश्चिम बंगाल (West Bengal) के हावड़ा जिले में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के एक कार्यकर्ता को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के एक कार्यकर्ता ने गोली मार दी है. पुलिस ने रविवार को इस बात की जानकारी दी. बीजेपी ने आरोप लगाए हैं कि क्षेत्र में पार्टी के बढ़ते प्रभाव के चलते घटना को अंजाम दिया गया है. फिलहाल घायल का इलाज चल रहा है और हालत स्थिर बताई जा रही है.

    जमीनी विवाद का एंगल आ रहा है सामने
    पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि बगनान पुलिस थाना क्षेत्र के चंदनापाड़ा (Chandnapada) में यह घटना शनीवार की रात हुई. तब 52 वर्षीय फूलों के व्यापारी किंकर माझी घर लौट रहे थे. इसे राजनीतिक हिंसा होने का दावा करते हुए भाजपा ने कथित तौर पर टीएमसी कार्यकर्ता के घर में तोड़फोड़ की तो वहीं पुलिस और राज्य में सत्ताधारी दल (Ruling Party) ने इस घटना के पीछे दो पड़ोसियों के बीच जमीन विवाद को वजह बताया.

    पुलिस ने बताया टीएमसी कार्यकर्ता पारितोष माझी (Paritosh Majhi) और कुछ अन्य लोगों ने किंकर माझी (Kinker Majhi) को रोका और पुरानी जमीन विवाद में किंकर को करीब से गोली मार दी. उन्होंने बताया कि पारितोष और किंकर माझी पड़ोसी हैं. अधिकारी ने कहा कि गोली की आवाज सुनकर जब ग्रामीण किंकर माझी को बचाने मौके पर पहुंचे तो हमलावर वहां से फरार हो गए. पुलिस अधिकारी ने कहा कि मामले में जांच जारी है और अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.




    घटना का राजनीतिक एंगल
    स्थानीय भाजपा नेता अनुपम मलिक (BJP leader Anupam Malik) ने हालांकि दावा किया कि आरोपी ने भगवा पार्टी के कार्यकर्ता को जान से मारने की धमकी दी थी. उन्होंने कहा 'क्षेत्र में भाजपा का प्रभाव बढ़ रहा था और इस लहर को दबाने के लिये हमारे कार्यकर्ता को गोली मारी गई.'

    बगनान से टीएमसी विधायक अरुनव सेन ने आरोपों को खारिज किया. उन्होंने कहा कि यह वारदात पुरानी रंजिश का नतीजा है और इसका कोई राजनीतिक संबंध नहीं है. उन्होंने कहा 'हमने पुलिस से दोषियों को कानून के शिकंजे में लेने का अनुरोध किया है.'
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज