Home /News /nation /

प्रशांत किशोर के बीजेपी दशकों तक नहीं जाएगी वाले बयान पर TMC का आया कमेंट, कहा यह उनका निजी बयान

प्रशांत किशोर के बीजेपी दशकों तक नहीं जाएगी वाले बयान पर TMC का आया कमेंट, कहा यह उनका निजी बयान

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर .     (फाइल फोटो)

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर . (फाइल फोटो)

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) भारतीय राजनीति के केंद्र में रहेगी और ‘अगले कई दशकों तक यह कहीं जाने वाली नहीं है,’ चाहे वह जीते या हारे. गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव (Goa Assembly Election 2022) में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की जीत की रणनीति तैयार कर रहे किशोर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की इस सोच के लिए उन पर तंज किया कि लोग भाजपा को तत्काल उखाड़ फेंकेंगे. टीएमसी ने कहा कि किशोर पार्टी के सदस्य नहीं हैं और बयान उनके निजी हैं जबकि कांग्रेस ने आश्चर्य जताया कि क्या ये टिप्पणियां चुनाव रणनीतिकार, टीएमसी और भाजपा के बीच पर्दे के पीछे की समझ की ओर इशारा करती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    पणजी/कोलकाता. चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) भारतीय राजनीति के केंद्र में रहेगी और ‘अगले कई दशकों तक यह कहीं जाने वाली नहीं है,’ चाहे वह जीते या हारे. गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव (Goa Assembly Election 2022) में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की जीत की रणनीति तैयार कर रहे किशोर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की इस सोच के लिए उन पर तंज किया कि लोग भाजपा को तत्काल उखाड़ फेंकेंगे. टीएमसी ने कहा कि किशोर पार्टी के सदस्य नहीं हैं और बयान उनके निजी हैं जबकि कांग्रेस ने आश्चर्य जताया कि क्या ये टिप्पणियां चुनाव रणनीतिकार, टीएमसी और भाजपा के बीच पर्दे के पीछे की समझ की ओर इशारा करती हैं. भगवा दल ने कहा कि पूरा देश प्रशांत किशोर के बयान से सहमति रखता है क्योंकि राजनीतिक गलियारों में वह मशहूर हैं. एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें किशोर गोवा में एक निजी बैठक को संबोधित करते नजर आ रहे हैं.

    ‘इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी’(आई-पीएसी) के एक वरिष्ठ नेता ने इस बात की पुष्टि की कि यह वीडियो बुधवार को हुई एक निजी बैठक का है. किशोर आई-पीएसी के प्रमुख हैं. इस बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए कांग्रेस ने टीएमसी पर आरोप लगाया कि वह राज्य की राजनीति में इसलिए प्रवेश कर रही है ताकि ‘धर्मनिरपेक्ष वोटों को बांट सके और सत्तारूढ़ भाजपा को फायदा पहुंचा सकें.’ साथ ही पार्टी ने आरोप लगाया कि किशोर के बयान से ममता बनर्जी नीत पार्टी के एजेंडा का भंडाफोड़ हुआ है. इस वीडियो में किशोर यह कहते नजर आ रहे हैं ‘भारतीय जनता पार्टी चाहे जीते या हारे, वह राजनीति के केन्द्र में रहेगी, जैसा कि पहले 40 वर्षों में कांग्रेस के लिए था, भाजपा कहीं नहीं जा रही है.’ उन्होंने कहा,‘भारत के स्तर पर एक बार आप 30 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल कर लें, तो फिर आप जल्दी कहीं नहीं जाने वाले. इसलिए, इस जाल में कभी मत फंसना कि लोग मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) से नाराज हैं और वे उन्हें उखाड़ फेकेंगे.’ किशोर ने कहा, ‘हो सकता है कि वे मोदी को हटा दें, लेकिन भाजपा कहीं नहीं जा रही. वे यहीं रहेंगे, आपको अगले कई दशकों तक इसके लिए लड़ना होगा. यह जल्दी नहीं होगा.’

    ये भी पढ़ेें :  भ्रष्टाचार के खिलाफ जम्मू-कश्मीर सरकार की बड़ी कार्रवाई, 8 अधिकारी बर्खास्त, जानें पूरा मामला

    चुनाव रणनीतिकार ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी का जिक्र करते हुए कहा,‘राहुल गांधी के साथ समस्या यही है. शायद वह सोचते हैं कि यह कुछ ही दिनों की बात है कि लोग उन्हें (मोदी को) नकार देंगे. ऐसा नहीं होने जा रहा है.’ गौरतलब है कि किशोर ने इस वर्ष पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु में हुए विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस और द्रमुक के लिए जीत की रणनीति तैयार की थी और दोनों ही दलों ने अपने-अपने राज्यों में जीत दर्ज की थी. गोवा में अगले वर्ष फरवरी में चुनाव होने वाले हैं और तृणमूल कांग्रेस ने कहा है कि वह चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारेगी. पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी का बृहस्पतिवार को गोवा आने का कार्यक्रम है. किशोर के बयान के बारे में पूछने पर टीएमसी के वरिष्ठ सांसद और पार्टी प्रवक्ता सौगत राय ने कोलकाता में संवाददाताओं से कहा, ‘पिछले विधानसभा चुनावों में पीके ने हमें अच्छे सुझाव दिए थे लेकिन वह हमारी पार्टी के सदस्य नहीं हैं. उन्होंने जो कहा वे उनके विचार हैं.’ लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि इस वर्ष विधानसभा चुनावों में किशोर ने टीएमसी का सहयोग किया और 2014 के आम चुनावों में उन्होंने भाजपा का साथ दिया था.

    ये भी पढ़ें :  कांग्रेस नेता संजय निरुपम बोले- पूर्व CAG विनोद राय मांगे देश से माफी, जानें पूरा मामला

    पश्चिम बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी ने कहा, ‘उनके बयान उनके, टीएमसी और भाजपा के बीच किसी तरह के षड्यंत्र या समझ की तरफ इशारा करते हैं. टीएमसी को बताना चाहिए कि क्या वह कांग्रेस का विरोध कर भाजपा का सहयोग कर रही है.’ भाजपा प्रवक्ता राज्यवर्द्धन राठौड़ ने नयी दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि किशोर ने ऐसा कुछ नहीं कहा है जो देश नहीं जानता है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मादी ने राजनीति बदल दी है और (वह)लोगों के फीडबैक के आधार पर सरकार चलाते हैं. पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी आने वाले कई वर्षों तक देश चलाएंगे चाहे प्रशांत किशोर कहें या न कहें. बहरहाल, हम खुश हैं कि उन्होंने अंतत: सच्चाई कही है.’ किशोर के बयान के बाद टीएमसी की आलोचना करते हुए गोवा प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख गिरिश चोडांकर ने कहा, ‘पिछले एक महीने से टीएमसी गोवा में आई है. मैंने हमेशा कहा है कि टीएमसी को गोवा भेजने में अमित शाह और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का हाथ है. अब उनके रणनीतिकार जिनकी सेवा पैसे का भुगतान करके ली गई है, उन्होंने आशंकाओं की पुष्टि की है और कहा है कि भाजपा यहां रूकेगी. टीएमसी वोटों का बंटवारा करने आई है. टीएमसी के एजेंडा का भंडाफोड़ हो गया है.’

    बाद में उन्होंने एक बयान जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि वह बार-बार कहते रहे हैं कि अमित शाह और ईडी का टीएमसी के ‘ऑपरेशन गोवा’ में हाथ है, ताकि धर्मनिरपेक्ष वोट बंट जाए और भाजपा को फायदा मिल जाए. कांग्रेस नेता ने कहा, ‘प्रशांत किशोर न तो नेता हैं न ही उनकी कोई विचारधारा है. जो भी पैसे का भुगतान कर उनकी सेवा लेता है, वह उसके साथ काम करते हैं.’ उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पर प्रहार इस बात को साबित करता है. कांग्रेस की एक अन्य स्थानीय नेता राखी प्रभुदेसाई नाईक ने ट्वीट कर कहा, ‘अगर टीएमसी के रणनीतिकार सोचते हैं कि भाजपा कहीं नहीं जा रही है तो उनकी पार्टी को बोरिया-बिस्तर बांधकर गोवा छोड़ देना चाहिए. वोट बांटने के बजाए उन्हें पश्चिम बंगाल जाना चाहिए. नहीं तो इससे पुष्टि होती है कि यहां उनकी मौजूदगी भाजपा का खेल है.’

    Tags: BJP, Goa Assembly Election 2022, Prashant Kishor, Trinamool congress

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर