अपना शहर चुनें

States

बर्ड फ्लू की जांच के लिए पंजाब सरकार ने RDDL में कोरोना टेस्ट पर लगाई अस्थायी रोक

देश के सात राज्‍य बर्ड फ्लू से प्रभावित हैं. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
देश के सात राज्‍य बर्ड फ्लू से प्रभावित हैं. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Bird Flu: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बर्ड फ्लू की पुष्टि के अलावा जिन अन्य छह राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है, उनमें केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 7:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) दस्तक दे चुका है. इसी के मद्देनजर पंजाब सरकार (Punjab Government) ने एवियन इंफ्लुएंजा (बर्ड फ्लू) को लेकर खास एहतियात बरतने के आदेश दिए हैं. पंजाब सरकार की ओर से जानकारी दी गई कि एवियन इन्फ्लुएंजा के लिए निगरानी बढ़ाने की आवश्यकता के मद्देनजर, पंजाब सरकार ने क्षेत्रीय रोग निदान प्रयोगशाला (RDDL), पशुपालन विभाग जालंधर को ऐसे संदिग्ध मामलों के परीक्षण के लिए बहाल किया है जो पहले कोविड-19 परीक्षण (Covid-19 Test) के लिए इस्तेमाल किए जा रहे थे.

राज्य सरकार की ओर से जानकारी दी गई कि बर्ड फ्लू के लिए अधिकतम परीक्षण करने के लिए, कोविड-19 परीक्षण को अस्थायी रूप से RDDL में निलंबित कर दिया गया है, क्योंकि कोविड परीक्षण क्षमता एक घंटे की दूरी पर उपलब्ध है. बता दें अब तक देश के सात राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है. केंद्र ने कहा कि हालांकि दिल्ली, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने का इंतजार है क्योंकि इन स्थानों से लिये गये नमूने जांच के लिए भेजे गये हैं.

ये भी पढ़ें- चिकन के गिरे दाम, गरीब और कम आमदनी वाले लोग खरीद रहे हैं मुर्गा




इन राज्यों में हुई है बर्ड फ्लू की पुष्टि
शनिवार को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बर्ड फ्लू की पुष्टि के अलावा जिन अन्य छह राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है, उनमें केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात शामिल हैं. मत्स्यपालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘अब तक सात राज्यों में इस रोग की पुष्टि हुई है...प्रभावित राज्यों को परामर्श जारी किया गया है, ताकि रोग को और अधिक फैलने से रोका जा सके.’’

छत्तीसगढ़ में पॉल्ट्री में पक्षियों की और बलोद जिले में वन्य पक्षियों की शुक्रवार रात एवं शनिवार सुबह अस्वभाविक मौत होने की खबरें हैं. इनके नमूने जांच के लिए प्रयोगशाला भेजे गये हैं. मंत्रालय ने कहा कि दिल्ली स्थित संजय झील में बत्तखों की अस्वभाविक मौत होने की खबरें हैं और इनके नमूने जांच के लिए भेजे गये हैं.

ये भी पढ़ें- NDRF को UN से अंतरराष्ट्रीय आपदा बचाव बल के तौर पर जल्द मिलेगी मान्यता

मंत्रालय ने कहा कि इसी तरह, महाराष्ट्र के मुंबई, ठाणे, डपोली, परभनी और बीड जिलों में कौओं की अस्वभाविक मौतें हुई हैं. उनके नमूने भोपाल स्थित ‘भाकृअनुप (आईसीएआर)-राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान को भेजे गये हैं.

बर्ड फ्लू के चलते बढ़ाई गई निगरानी
मंत्रालय ने कहा, ‘‘हरियाणा जिले के पंचकूला जिले में पॉल्ट्री (दो पॉल्ट्री फार्म) से लिए गये नमूनों में एवियन इंफ्लूएंजा की भाकृअनुप (आईसीएआर)-राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान से पुष्टि होने के बाद मध्य प्रदेश के शिवपुरी, राजगढ़,शाजापुर, आगर, विदिशा जिलों में, उत्तर प्रदेश के कानुपर स्थित जूलॉजिकल पार्क और राजस्थान के प्रतापगढ़ एवं दौसा जिलों में प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. ’’

पक्षियों को मारे जाने के अभियान की स्थिति पर मंत्रालय ने कहा कि केरल के दो जिलों में इसे पूरा किया गया है. केंद्रीय टीमें निगरानी/ महामारी संबंधी जांच के लिए केरल, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश पहुंची है.

राज्यों से जल स्रोतों, जीवित पक्षियों के बाजारों, प्राणी उद्यानों और पॉल्ट्री फार्म के आसपास निगरानी बढ़ाने को कहा गया है. साथ ही, शवों का उपयुक्त तरीके से निपटारा करने तथा पॉल्ट्री फार्म में जैव-सुरक्षा मजबूत करने को कहा गया है. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज