आज का मौसम: दिल्‍ली-एनसीआर समेत कई शहरों में बरसेंगे बादल, मौसम रहेगा सुहावना

दिल्‍ली और कई शहरों में आज बारिश का अनुमान है. (File pic)

दिल्‍ली और कई शहरों में आज बारिश का अनुमान है. (File pic)

Weather Forecast Today: मौसम विभाग के अनुसार दिल्‍ली और उसके आसपास के शहरों में मंगलवार को 40 से 60 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवात यास (Yaas Cyclone) का प्रभाव अब कम हो चुका है. हालांकि इसके असर के कारण कई शहरों में बारिश (Rain) और तेज हवाएं देखी जा रही हैं. सोमवार रात को दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi-NCR) समेत कई शहरों में बारिश दर्ज की गई है. वहीं भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का कहना है कि मंगलवार को भी दिल्‍ली और उसके आसपास के शहरों के अलावा हरियाणा, यूपी और पंजाब के कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश होने का अनुमान है. इस दौरान मौसम सुहावना रहेगा.

मौसम विभाग के अनुसार दिल्‍ली और उसके आसपास के शहरों में मंगलवार को 40 से 60 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. साथ ही गरज के साथ बारिश होगी. आईएमडी ने हिसार, हांसी, भिवानी, चरखी दादरी (हरियाणा) रामपुर, मिलक, मुरादाबाद, बिलारी, संभल, अमरोहा, बरेली, बदायूं, गंजदुंदवाड़ा, चंदौसी, बहाजोई, सहसवान, नरौरा, देबाई, अनूपशहर, मानपुरी, शिकोहाबाद, एटा, कासगंज, सिकंदर राव, हाथरस, अलीगढ़ अतरौली में बारिश का अनुमान जताया है.


आईएमडी ने जानकारी दी है कि मंगलवार को सिकंदरा राव, हाथरस, इगलास, अलीगढ़, खैर, गभाना, अतरौली, जट्टारी, आगरा, मथुरा, राया, बरसाना, नंदगांव (यूपी) महम, लोहारू (हरियाणा) सहारनपुर और आसपास के इलाकों में हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश होगी. गंगोह, देवबंद, मुजफ्फरनगर, शामली, बड़ौत, बागपत, खेकरा, खतौली, दौराला, मेरठ, मोदीनगर, किठौर, गढ़मुक्तेश्वर, हापुड़, पिलाखुआ (यूपी) में भी बारिश हो सकती है.
वहीं मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून के केरल में आगमन में दो दिन की देरी हो सकती है और राज्य में अब इसके 3 जून तक पहुंचने का अनुमान है. हालांकि निजी पूर्वानमुमान एजेंसी ‘स्काईमेट वेदर’ ने कहा कि मानसून केरल में दस्तक दे चुका है.

‘स्काईमेट वेदर’ के अध्यक्ष (मौसम विज्ञान) जीपी शर्मा ने कहा कि इस वर्ष मॉनसून की शुरुआत बहुत कमजोर है. ‘स्काईमेट वेदर’ ने इससे पहले पूर्वानुमान जताया था कि मॉनसून केरल में 30 मई को दस्तक देगा. मौसम विभाग के महानिदेशक एम महापात्रा ने कहा कि कर्नाटक तटीय इलाके में चक्रवातीय परिसंचरण से दक्षिण-पश्चिम मानसून का आगे बढ़ना बाधित हुआ है.




विभाग ने कहा, 'एक जून से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं धीरे-धीरे जोर पकड़ सकती हैं, जिसके चलते केरल में वर्षा संबंधी गतिविधि में तेजी आ सकती है. लिहाजा केरल में तीन जून के आसपास मानसून की शुरुआत होने की उम्मीद है.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज