आज का मौसम: मानसून की रफ्तार हुई धीमी, दिल्‍ली-यूपी समेत इन राज्‍यों में बरसेंगे बादल

देश के कई हिस्सों में पहुंचा मानसून. (File Pic)

Weather Forecast Today: आईएमडी ने सोमवार को पूर्वानुमान में कहा है कि उत्तर भारत के कई हिस्सों को अभी मानसून के लिए थोड़ा और इंतजार करना पड़ेगा.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon) अब उत्‍तर की ओर बढ़कर हिमाचल प्रदेश तक पहुंच चुका है. पिछले कुछ दिनों से दक्षिणी राज्‍यों के साथ ही उत्‍तर में भी बारिश (Rain) हो रही है. इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने जानकारी दी है कि मंगलवार को भी दिल्‍ली, यूपी समेत कई राज्‍यों में तेज बारिश होने का पूर्वानुमान है.

    दिल्‍ली में सोमवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि मानसून से पूर्व होने वाली बारिश शहर में कहीं नहीं हुई. दिल्ली में दक्षिण-पश्चिम मानसून के पहुंचने से पहले शहर में सोमवार को मध्यम दर्जे की बारिश होने का पूर्वानुमान था. आईएमडी ने दिल्ली में मंगलवार को गरज के साथ बौछारें पड़ने का अनुमान व्यक्त किया है.

    आईएमडी ने कहा, 'अगले 48 घंटे के दौरान दक्षिण-पश्चिम मानसून के मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों, पूर्वी उत्तर प्रदेश और दिल्ली के शेष हिस्सों, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अधिकांश हिस्सों, हरियाणा और पंजाब में आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं.'

    मानसून के रविवार को आधिकारिक तौर पर हिमाचल प्रदेश पहुंचने के साथ ही राज्य के कई इलाकों में बारिश हुई है. शिमला मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि रविवार को राज्य के अधिकतर इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हुई. उसके अनुसार मंगलवार को भी बारिश जारी रह सकती है.

    आईएमडी ने सोमवार को पूर्वानुमान में कहा है कि उत्तर भारत के कई हिस्सों को अभी मानसून के लिए थोड़ा और इंतजार करना पड़ेगा, क्योंकि पास आ रही पछुआ हवा की वजह से उसकी रफ्तार धीमी हो सकती है.

    विभाग ने इससे पहले पूर्वानुमान में कहा था कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के 15 जून तक नई दिल्‍ली पहुंचने की संभावना है. आईएमडी महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि लेकिन वर्तमान परिस्थिति में इसकी संभावना नहीं है. विभाग ने कहा कि मानसन का उत्तरी छोर का प्रभाव दीव, सूरत, नंदुरबार, भोपाल, नौगोंग, हमीरपुर, बाराबंकी, बरेली, सहारनपुर, अंबाला और अमृतसर में बना हुआ है.

    मौसम विभाग के अनुसार भी जानकारी दी है कि मानसून मध्‍य प्रदेश के कुछ हिस्‍सों, पूरे छत्‍तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, उत्‍तर प्रदेश के कुछ हिस्‍सों तक पहुंच गया है. इसके अलावा उत्‍तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित बाल्टिस्‍तान, हरियाणा, चंडीगढ़ और पंजाब के कुछ हिस्‍सों में भी पहुंच चुका है. साथ ही इन राज्‍यों के अधिकांश हिस्‍सों में यह मानसून 14 जून को पहुंच जाएगा. इससे इन इलाकों में तेज बारिश औ हवाएं चलने का अनुमान है.

    दक्षिण-पश्चिम मानसून के रविवार को आधिकारिक तौर पर हिमाचल प्रदेश पहुंचने के साथ ही राज्य के कई इलाकों में बारिश हुई. सोमवार को भी प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने का अनुमान है जबकि राज्य के कुछ निचले और मध्य पहाड़ी इलाकों में भारी वर्षा हो सकती है.

    15 जून को एक बार फिर पश्चिमी राजस्थान की जोधपुर और बीकानेर संभाग में आंधी बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी. इस दौरान तेज थंडरस्टोर्म, हवा की गति 40 से 60 किलोमीटर प्रतिघंटा तक दर्ज हो सकती है. अजमेर, जयपुर, भरतपुर कोटा संभाग के जिलों में भी 15-16 जून को थंडरस्टोर्म के साथ तेज बारिश होने की प्रबल संभावना है. उदयपुर व कोटा संभाग में भी 15-16-17 जून को थंडरस्टोर्म के साथ बारिश का अनुमान है. मौसम विभाग ने पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में 15 जून को कहीं मध्यम और कहीं गरज के साथ छींटे पड़ने का पूर्वानुमान जताया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.