अपना शहर चुनें

States

आज का मौसम, 2 फरवरी: ओडिशा में शीतलहर जारी, यूपी में बारिश की आशंका

उत्‍तर भारत में जारी रहेगा ठंड का दौर. (Pic- AP)
उत्‍तर भारत में जारी रहेगा ठंड का दौर. (Pic- AP)

मौसम विभाग (Imd) ने ओडिशा के कुछ जिलों में जबरदस्त शीतलहर चलने को लेकर चेतावनी जारी की है. दूसरी ओर मध्यप्रदेश के अधिकांश भागों में सोमवार से तापमान बढ़ने से एक सप्ताह से जारी कड़ाके की ठंड से राहत मिलनी शुरू हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 2, 2021, 6:56 AM IST
  • Share this:
भुवनेश्वर. मौसम विभाग (Imd) ने आने वाले तीन से चार दिनों के लिए ओडिशा के कुछ जिलों में जबरदस्त शीतलहर चलने को लेकर चेतावनी जारी की है. इसके चलते राज्य सरकार ने जिलों के प्रशासन को लोगों की सहायता के मद्देनजर कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD ने एक विशेष बुलेटिन में कहा कि ओडिशा में निचले स्तर पर जारी उत्तर-पश्चिमी शुष्क एवं सर्द हवाओं के प्रभाव के कारण पांच फरवरी तक कई जिलों में जबरदस्त शीतलहर की संभावना है.

विभाग ने पांच फरवरी तक रात का न्यूनतम तापमान तीन से पांच डिग्री सेल्सियस गिरने का भी अनुमान जताया है. साथ ही निश्चित जिलों के लिए ऑरेंज एवं येलो चेतावनी जारी की है. विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि यह चेतावनी अगले तीन चार दिनों के लिए जारी की गई है. राज्य जबरदस्त ठंड की चपेट में है और नौ स्थानों पर रात का तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे दर्ज किया गया है.

उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड जारी, अगले कुछ दिनों में बारिश की संभावना
वहीं उत्तर प्रदेश में पिछले करीब एक पखवाड़े से जारी सर्दी के सितम के बीच आने वाले दिनों में बारिश होने की संभावना है.
आंचलिक मौसम केंद्र के रिपोर्ट के मुताबिक अगले 48 घंटों के दौरान प्रदेश के पश्चिमी हिस्सों में कुछ स्थानों पर बारिश होने की संभावना है जबकि चार फरवरी को पूरे राज्य में कई स्थानों पर वर्षा होने का अनुमान है.



रिपोर्ट के अनुसार पिछले गत 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ इलाकों में शीतलहर का प्रकोप रहा. इस अवधि में राज्य के मुरादाबाद मंडल में दिन के तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई. इसके अलावा गोरखपुर, अयोध्या, लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद, वाराणसी तथा कानपुर इत्यादि मंडलों में भी अधिकतम तापमान सामान्य से कम रहा.

प्रदेश के कानपुर, वाराणसी, अयोध्या, प्रयागराज , मेरठ, लखनऊ, बरेली, झांसी तथा आगरा मंडलों में रात का तापमान भी सामान्य से नीचे दर्ज किया गया.

पिछले 24 घंटों के दौरान इटावा राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ हिस्सों में जबरदस्त शीतलहर चलने का पूर्वानुमान है.आगामी तीन फरवरी को राज्य के पश्चिमी इलाकों में कुछ स्थानों पर जबकि चार फरवरी को पूरे प्रदेश में कई जगहों पर बारिश होने की संभावना है.

मध्यप्रदेश के अधिकांश भागों में कड़ाके की ठंड से मिली राहत
इसके साथ ही मध्यप्रदेश के अधिकांश भागों में सोमवार से तापमान बढ़ने से एक सप्ताह से जारी कड़ाके की ठंड से राहत मिलनी शुरू हो गई है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पी के साहा ने बताया कि पड़ोसी राजस्थान में चक्रवाती हवाओं का प्रभाव बना हुआ हुआ है, जिसके चलते मध्यप्रदेश में सोमवार से तापमान में वृद्धि होने लगी है. इससे मध्यप्रदेश के अधिकांश भागों में कड़ाके की ठंड से राहत मिलनी शुरू हो गई है.

उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में (रविवार सुबह साढ़े आठ बजे से सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे तक) प्रदेश में सबसे कम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस मंडला एवं उमरिया में दर्ज किया गया.साहा ने बताया कि प्रदेश में बृहस्पतिवार एवं शुक्रवार को कुछ स्थानों पर बादल छाये रहने का पूर्वानुमान है और हल्की बारिश एवं ओले गिर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज