लाइव टीवी
Elec-widget

पाकिस्तानी ड्रोन से निपटने के लिए तैयार भारतीय सेना, ये है नया प्लान

News18Hindi
Updated: October 15, 2019, 9:48 PM IST
पाकिस्तानी ड्रोन से निपटने के लिए तैयार भारतीय सेना, ये है नया प्लान
भारतीय सेना के शीर्ष अधिकारियों ने मंगलवार को बैठक की.

पिछले कुछ दिनों में पंजाब (Punjab) में सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवानों द्वारा एक पाकिस्तानी ड्रोन (Pakistani Drone) देखे गए थे. सुरक्षा बलों को इनपुट मिला कि पाकिस्तान सीमा पार हथियारों की तस्करी के लिए चीनी ड्रोन का इस्तेमाल कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 9:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पंजाब (Punjab) में पाकिस्तान (Pakistan) के लगातार ड्रोन से हथियार और ड्रग्स की स्मगलिंग से निपटने के लिए भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) समेत सभी टॉप अधिकारी पूरी तरह से तैयार हैं. इसे मात देने के लिए मंगलवार को भारतीय सेना (Indian Army) के लिए नई तकनीक के ड्रोन प्रदर्शित किए गए.

सेना के सूत्रों ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को बताया कि भारतीय सेना के कमांडर्स की कॉन्फ्रेंस में कई स्वदेशी और विदेशों में बने ड्रोन दिखाए गए साथ ही पहले से इस्तेमाल किए जा रहे और भविष्य में इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण भी प्रदर्शित किए गए. उन्होंने बताया कि इस नई तकनीक और उपकरणों में काउंटर ड्रोन सॉल्यूशन भी शामिल हैं जिसमें विदेशी सॉल्यून भी शामिल हैं.

टारगेट ढूंढकर बना सकते हैं निशाना
सेना के अधिकारी ने बताया कि कुछ ऐसे ड्रोन भी है जिनका इस्तेमाल ऊंचाई वाले क्षेत्र में सामान की ढुलाई के लिए भी किया जा सकता है. इसके साथ ही कुछ गोला-बारूद वाले इज़रायली ड्रोन भी हैं जो कि टारगेट को ढूंढ कर उन्हें पहचान कर तबाह कर सकते हैं.

पिछले हफ्ते, भारत-पाकिस्तान के सीमा क्षेत्र पर पंजाब के फिरोज़पुर जिले में पाकिस्तान ड्रोन मिले थे जिसने सीमा सुरक्षा बल, पंजाब पुलिस और अन्य सिक्योरिटी एजेंसियों को हैरत में डाल दिया.

भारतीय सीमा में दिखे थे ड्रोन
8-9 अक्टूबर को एक अन्य पाकिस्तानी ड्रोन दो बार भारत की सीमा में दिखाई दिया. पहली बार ये करीब शाम के 7:20 बजे हज़ारा सिंह गांव में दिखा वहीं दूसरी बार यह रात करीब 10:10 बजे हुसैनीवाला बॉर्डर के पास तेंडी वाला गांव में दिखाई दिया था. इसी को देखते हुए सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने आधुनिक ‘‘ड्रोन भेदी प्रणाली’’ की मांग की थी ताकि संचालन क्षेत्रों में संदिग्ध हवाई प्लेटफॉर्म को नष्ट किया जा सके. इसी को देखते हुए मंगलवार को यह बैठक की गई थी.
Loading...

कुछ दिन पहले पंजाब पुलिस ने दो ड्रोनों को पकड़ा था. इन ड्रोनों से 5 AK-47, पिस्टल, हैंड ग्रेनेड और सेटेलाइट फोन गिराए गए थे. इन सभी में जीपीएस डिवाइस लगा हुआ था और ये 10 किलो भार के साथ जमीन से 500 मीटर की ऊंचाई से उड़ सकते हैं.

ये भी पढ़ें-
भारत ने पूरा किया अपना वादा, अफगानिस्तान को दिए 4 हेलिकॉप्टर

जानिए कितना खतरनाक है आतंकी संगठन जमात उल मु​जाहिदीन, निशाने पर है भारत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 8:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...