राहुल गांधी ने लद्दाख में चीन से तनातनी, कोरोना और लॉकडाउन पर सरकार से पूछे कई सवाल, 10 खास बातें

राहुल गांधी ने लद्दाख में चीन से तनातनी, कोरोना और लॉकडाउन पर सरकार से पूछे कई सवाल, 10 खास बातें
राहुल गांधी ने भारत-चीन विवाद पर ट्वीट किया है (File Photo)

कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रेस वार्ता में कहा कि भारत-चीन (India-China) का मुद्दा अभी चल रहा है. उस पर मैं ज्यादा नहीं बोलना चाहता. मैं उसको सरकार की बुद्धिमानी पर छोड़ता हूँ. मगर पारदर्शिता की जरूर आवश्यकता है. पारदर्शिता के बिना मेरा इस पर बोलना सही नहीं होगा.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने देश में चार चरणों में लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के विफल रहने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि आगे कोरोना संकट (Coronavirus) से निपटने और जरूरतमंदों को मदद देने की उनकी रणनीति क्या है? यहां पढ़ें राहुल की प्रेस वार्ता की 10 खास बातें-

1- राहुल ने अपनी पुरानी मांग दोहराते हुए यह भी कहा कि गरीबों और मजदूरों को 7500 रुपये की मदद दी जाए और राज्य सरकारों को केंद्र की तरफ से पूरी मदद मिले.

2- कांग्रेस नेता ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से कहा, ‘कुछ सप्ताह पहले प्रधानमंत्री ने कहा था कि हम 21 दिनों में कोविड को पराजित कर देंगे. यह उनकी उम्मीद थी. लेकिन आज मामले लगातार बढ़ रहे हैं.’



3- राहुल ने दावा किया, ‘चार चरण के लॉकडाउन हो गए और 60 दिन हो गए. भारत पहला देश है जो बीमारी के बढ़ने पर लॉकडाउन हटा रहा है. यह स्पष्ट है कि भारत का लॉकडाउन विफल हुआ हैं. जो लक्ष्य मोदी जी का था, वह पूरा नहीं हुआ है.’



4- कांग्रेस नेता ने प्रधानमंत्री से सवाल किया, ‘हम पूछना चाहते हैं कि अब आप की रणनीति क्या है? लॉकडाउन को आप किस तरह से देखते हैं? गरीबों, मजदूरों और एमएसएमई की कैसे मदद करेंगे?’

5- राहुल ने कहा, ‘हम कांग्रेस शासित राज्यों में गरीबों और किसानों को पैसे दे रहे हैं. लेकिन केंद्र सरकार की ओर से उचित मदद के बिना राज्य अपना कामकाज नहीं कर सकते.’

6-  बीते दिनों वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लगाए गए आरोप पर News18 India के पत्रकार अरुण सिंह के सवाल पर राहुल ने कहा, 'मेरा लक्ष्य है कि मैं गरीबों से बात करता हूं, मजदूरों से बात करता हूं, उनके दिल में क्या है यह जानना चाहता हूं. इसका मुझे सच में फायदा मिलता है. जहां तक मदद की बात है मैं करता रहता हूं. अगर वह मुझे परमिशन दें तो मैं एक का नहीं 10-15 का बैग उठाकर ले जाऊंगा. मगर मेरा लक्ष्य है कि जो उन मजदूरों के दिल में है वह बात हिन्दुस्तान के दिल में पहुंचे.'

महाराष्ट्र पर क्या बोले राहुल गांधी?

7-  महाराष्ट्र से जुड़े सवाल पर राहुल ने कहा कि महाराष्ट्र में हम सरकार को सपोर्ट कर रहे हैं लेकिन हम वहां महत्वपूर्ण फैसले लेने में शामिल नहीं हैं. हम पंजाब, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सरकार चला रहे हैं जबकि महाराष्ट्र में हम सरकार का समर्थन कर रहे हैं. राहुल ने कहा कि महाराष्ट्र अभी संघर्ष कर रहा है और जरूरत है कि केंद्र की मदद मिले.

8- एक सवाल के जवाब में राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले फ्रंटफुट पर खेल रहे थे लेकिन अब वह बैकफुट पर चले गए हैं. जरूरी है कि वह पहले की तरह फ्रंटफुट पर आएं और देश को बताएं कि आगे क्या करना है?

9-  चीन और नेपाल के साथ मौजूदा तनावपूर्ण स्थिति के सवाल पर राहुल ने कहा कि सीमा विवाद की डिटेल्स, क्या हुआ और कैसे हुआ, क्या किया गया, इसकी पूरी जानकारी सरकार पूरे देश को दे. सरकार इसकी सभी को जानकारी दे. नेपाल और चीन के साथ सीमाओं पर क्या हुआ यह सरकार जनता को बताए. चीन और भारत के मुद्दे पर ज्यादा नहीं बोलना चाहता लेकिन ट्रांसपैरेंसी की जरूरत है. जब तक ट्रांसपैरेंसी नहीं होगी तो इस पर मेरा कोई कमेंट करना सही नहीं है.

10-  राहुल ने कहा कि हिन्दुस्तान ऐसा देश है जो कोरोना के मामले बढ़ते वक्त लॉकडाउन बंद कर रहा है. यह बात स्पष्ट है कि लॉकडाउन फेल हुआ है. जो लक्ष्य नरेंद्र मोदी जी का था, वह पूरा नहीं है. हम बहुत आदर से सरकार से पूछना चाहते हैं कि अब आपका प्लान बी क्या है?



First published: May 26, 2020, 1:17 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading