हाईवे पर शराबबंदी से खुश नहीं नीति आयोग के सीईओ, विरोध में किया ट्वीट

हाईवे पर शराबबंदी से खुश नहीं नीति आयोग के सीईओ, विरोध में किया ट्वीट
हाइवे पर 500 मीटर के दायरे में शराब के ठेके बंद करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत सही नहीं मानते हैं.

हाइवे पर 500 मीटर के दायरे में शराब के ठेके बंद करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले को नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत सही नहीं मानते हैं.

  • Share this:
हाईवे के 500 मीटर के दायरे में शराब के ठेके बंद करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने सवाल उठाए हैं. अमिताभ कांत ने ट्वीट किया है कि पर्यटन रोजगार पैदा करता है, इसे क्यों मारा जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट के हाईवे पर शराब की दुकानें बंद करने वाले फैसले से 10 लाख लोग बेरोजगार हो जाएंगे.



बता दें कि शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि 1 अप्रैल 2017 से देश के नेशनल हाईवे और राज्य के हाईवे से 500 मीटर की दूरी तक किसी भी प्रकार से शराब की बिक्री नहीं होगी.
केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, मौजूदा वक्त में लोकपाल की नियुक्ति संभव नहीं



सुप्रीम कोर्ट के फैसले का असर

वहीं दूसरी ओर, सुप्रीम कोर्ट इस फैसले का असर भी दिखने लगा है. राजस्थान में 2,800 शराब की दुकानें बंद हुईं हैं. हरियाणा में तकरीबन 200 बार बंद हो गए. महाराष्ट्र में 15699 शराब की दुकानें और बार बंद हो गए. तो वहीं राजधानी दिल्ली में 100 शराब की दुकानें बंद हो गईं. जाहिर है इससे राज्य सरकारों को करोड़ों रुपये के राजस्व का नुकसान हो रहा है.

बड़ा फैसला : 200 दिन में पेपरलेस यानी डिजिटल हो जाएगी सुप्रीम कोर्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading