अपना शहर चुनें

States

Tractor Rally: पलवल नहीं नोएडा तक जाएगी ट्रैक्टर रैली, किसान बोले- ये 26 जनवरी की रिहर्सल है

खराब मौसम के चलते एक दिन के लिए टाल दी गई थी ट्रैक्टर रैली. (फोटो: ANI/Twitter)
खराब मौसम के चलते एक दिन के लिए टाल दी गई थी ट्रैक्टर रैली. (फोटो: ANI/Twitter)

Farmers Protest: गुरुवार को आयोजित हो रही इस ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में करीब 40 किसान संगठनों ने भाग लिया है. वहीं, यातायात व्यवस्था को ध्यान में रखकर पुलिस ने दिल्ली, नोएडा और गुरुग्राम के लिए एडवाइजरी भी जारी की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2021, 11:04 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) का विरोध कर रहे किसानों ने गुरुवार को ट्रैक्टर रैली का रास्ता चुना है. प्रदर्शन कर रहे किसान दिल्ली की सीमाओं पर आज ट्रैक्टर रैली निकालेंगे. हालांकि, पहले किसान पलवल तक रैली निकालने की योजना बना रहे थे, लेकिन अब यह रैली केवल नोएडा तक ही जाएगी. यह जानकारी गाजियाबाद सिटी एडीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने दी है. किसानों के इस प्रदर्शन के मद्देनजर पुलिस प्रशासन मुस्तैद है.

किसानों ने अपनी ट्रैक्टर रैली योजना में कुछ बदलाव किए हैं. गुरुवार को गाजियाबाद सिटी एडीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा 'पहले किसान पलवल तक ट्रैक्टर रैली निकालने वाले थे, लेकिन अब वे केवल नोएडा तक जाएंगे और गाजीपुर वापस लौट आएंगे. उन्होंने इस दौरान रैली को लेकर सुरक्षा की जानकारी भी दी. सिंह ने बताया 'पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया गया है, वहीं वीडियो रिकॉर्डिंग भी गई है.' इस रैली की घोषणा बीते मंगलवार को हो गई थी.

किसान आंदोलन से जुड़े लाइव अपडेट्स के लिए यहां क्लिक करें



यह केवल ट्रेलर होगा
सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर जय किसान आंदोलन के योगेंद्र यादव ने कहा था 'ये रैलियां 26 जनवरी के लिए ट्रेलर होंगी.' पहले यह आयोजन बुधवार को किया जाना था, लेकिन खराब मौसम के चलते इन्हें एक दिन के लिए टाल दिया गया था. गुरुवार को आयोजित हो रही इस ट्रैक्टर रैली में करीब 40 किसान संगठनों ने भाग लिया है. वहीं, यातायात व्यवस्था को ध्यान में रखकर पुलिस ने दिल्ली, नोएडा और गुरुग्राम के लिए एडवाइजरी भी जारी की है.

केंद्र सरकार के साथ हुई बेनतीजा बातचीत के बाद किसानों ने पूर्वी और पश्चिमी पेरिफेरल एक्स्प्रेसवे पर ट्रैक्टर मार्च की बात कही थी. किसान इस रैली को 26 जनवरी की रैली का रिहर्सल बता रहे हैं. हालांकि, किसान और सरकार के बीच 8 जनवरी को भी बात होनी है. बीते हफ्ते संयुक्त किसान मोर्चा ने दिल्ली की सरहदों पर अपनी मांगों को लेकर अभियान चलाया था. संगठन का कहना था कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं, तो किसान दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज