प्रवासी मजदूरों को लेकर सूरत से प्रयागराज आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूटे

प्रवासी मजदूरों को लेकर सूरत से प्रयागराज आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूटे
गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद रेलवे ने यह फैसला लिया है.

मिली जानकारी के अनुसार इंजन के साथ 3 बोगी भटौली स्टेशन से अलग होकर आगे निकल गयी और 20 डिब्बे पीछे छूट गए. फंसे हुए लोग बिना पानी के बेहाल हैं.

  • Share this:
सूरत. प्रवासी मजदूरों को लेकर गुजरात स्थित सूरत (Surat) से  उत्तर प्रदेश स्थित प्रयागराज (Surat To Prayagraj) के लिए आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूट गए. वहीं इंजन के साथ बाकी ट्रेन आगे निकल गयी. यह जानकारी गार्ड ने स्टेशन मास्टर को दी. मिली जानकारी के अनुसार  इंजन के साथ 3 बोगी भटौली स्टेशन से अलग होकर आगे निकल गयी और 20 डिब्बे पीछे छूट गए. फंसे हुए लोग बिना पानी के बेहाल हैं.

इसी ट्रेन से यात्रा कर रहे एक यात्री ने बताया कि हमारा भाग्य अच्छा था क्योंकि फ्यूजन की वजह से ट्रेन का 20 डिब्बा पीछे ही रह गया और एक बड़ा हादसा होने से बच गया. यात्री ने बताया कि उन्होंने सूरत से इलाहाबाद जाने के लिए शनिवार को उन्होंने सफर शुरू किया लेकिन अब तक कुछ खाने पीने को नहीं मिला. वहां गाड़ी 3 घंटे तक रुकी रही. एक टेंपरेरी इंतजाम कर के गाड़ी को भटौली स्टेशन पर रोक दिया है और अभी तक कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है.

यात्री ने बताया कि उनके पास खाने पीने को कुछ नहीं है यहां तक कि जब कुछ यात्री भटौली स्टेशन पर पानी भरने के लिए उतरे तो उनसे कहा गया कि सभी वापस बोगियों में चले जाएं अन्यथा कानूनी कार्रवाई की जाएगी.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज