Home /News /nation /

बच्चों को जाने से रोकने के लिए स्कूल का बनाया ट्रेन जैसा डिजाइन

बच्चों को जाने से रोकने के लिए स्कूल का बनाया ट्रेन जैसा डिजाइन

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

स्कूल को ट्रेन की तरह रंगने के बाद न सिर्फ बच्चों ने निजी स्कूल में जाने की योजना छोड़ दी बल्कि कुछ अन्य बच्चे निकटतम निजी स्कूल से यहां वापस आ गए.

    निजी विद्यालयों में बच्चों को जाने से रोकने और सरकारी स्कूल की तरफ उनका ध्यान खींचने के लिए मैसूरु के दूर-दराज गांव में स्थित एक स्कूल को ट्रेन जैसे डिजाइन में रंग दिया गया. यह स्कूल नान्जानगुड तालुक में स्थित है.

    ये भी पढ़ेंः पिछली सरकार में दी जाने वाली ड्रेस में छोटे होमगार्ड लगते थे बच्चे: अनुपमा जायसवाल

    स्कूल के ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर एम नारायण ने बताया, “इन दिनों सरकारी स्कूल बंद हो रहे हैं क्योंकि बच्चे निजी स्कूलों में जा रहे हैं.” उन्होंने बताया, “यही चीज हमारे स्कूल के साथ भी हो रही है. इसलिए हमारे मन में ख्याल आया कि हम अपने स्कूल को क्यों न थोड़ा अलग रूप में दिखाएं और इसके लिए हमने इसे ऐसे रंग दिया.”

    ये भी पढ़ेंः इस प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे इंग्लिश में करते हैं बातचीत

    स्कूल में पहली से सातवीं कक्षा तक की पढ़ाई होती है. यहां कुल 50 छात्र थे लेकिन स्कूल को ऐसी खबर मिली थी कि कुछ बच्चे निजी स्कूल जाने की तैयारी में थे. अधिकारी ने बताया, “स्कूल को ट्रेन की तरह रंगने के बाद न सिर्फ बच्चों ने निजी स्कूल में जाने की योजना छोड़ दी बल्कि कुछ अन्य बच्चे निकटतम निजी स्कूल से यहां वापस आ गए.” उन्होंने बताया कि पहले यहां 50 छात्र थे लेकिन अब यह संख्या बढ़कर 55 हो गई है.

    Tags: Government primary schools

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर