Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    त्रिपुरा में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत, 20 घायल

    त्रिपुरा में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने की गोलीबारी (फोटो साभार-ANI)
    त्रिपुरा में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने की गोलीबारी (फोटो साभार-ANI)

    Demonstrators block NH in Tripura: बंगाली और स्थानीय मिजो समुदाय की संयुक्त आंदोलन समिति (जेएमसी) ने इस मुद्दे पर सोमवार से पांच दिवसीय हड़ताल की घोषणा की है, जिसके तहत उन्होंने शनिवार को राजमार्ग-8 को बंद कर दिया.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 22, 2020, 12:08 AM IST
    • Share this:
    अगरतला. उत्तरी त्रिपुरा (Tripura) जिले के पानीसागर में असम-अगरतला राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद कर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस की गोलीबारी (Police Firing) में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए. ये लोग पड़ोसी राज्य मिजोरम से आए ब्रू प्रवासियों को त्रिपुरा में बसाने का विरोध कर रहे थे. पुलिस ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग पानीसागर राष्ट्रीय राजमार्ग-8 पर जमा हुए और उसे बंद कर दिया. उन्होंने सरकार से ब्रू प्रवासियों को त्रिपुरा में बसाने की योजना वापस लेने की मांग की.

    बंगाली और स्थानीय मिजो समुदाय की संयुक्त आंदोलन समिति (जेएमसी) ने इस मुद्दे पर सोमवार से पांच दिवसीय हड़ताल की घोषणा की है, जिसके तहत उन्होंने शनिवार को राजमार्ग-8 को बंद कर दिया. केन्द्र सरकार ने इस साल जनवरी में एक नए समझौते पर हस्ताक्षर किये थे जिसके तहत, त्रिपुरा के राहत शिविरों में रह रहे ब्रू समुदाय के लोगों को वापस जाने के लिये मजबूर नहीं किया जाएगा.


    शनिवार को हालात उस समय खराब हो गए जब पुलिस और त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) समेत अर्धसैनिक बलों के एक बड़े दस्ते की सड़क खाली कराने को लेकर प्रदर्शनकारियों से झड़प हो गई. पुलिस ने पहले प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और बाद में गोलीबारी की , जिसमें प्रदर्शन में शामिल 40 वर्षीय व्यक्ति श्रीकांत दास की मौत हो गई.



    ये भी पढ़ें: जम्‍मू-कश्मीर में स्थानीय चुनाव से पहले राजनेताओं पर आतंकी हमले की पाकिस्तानी साजिश बेनकाब

    ये भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में थम नहीं रही आतंकियों की भर्ती, 10 साल में दूसरी बार सबसे ज्यादा ने पकड़ी आतंक की राह

    अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजीव सिंह ने कहा कि पुलिस को अपने बचाव के लिये गोली चलानी पड़ी क्योंकि भीड़ बेकाबू हो गई थी और सुरक्षा बलों से हथियार छीनने की कोशिश कर रही थी. उन्होंने स्वीकार किया कि इस दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई और कुछ लोग घायल हो गए.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज