Home /News /nation /

त्रिशूल, वज्र, सैपर पंच; भारतीय सेना के लिए यूपी की फर्म ने तैयार किए हथियार, गलवान हिंसा से है रिश्ता

त्रिशूल, वज्र, सैपर पंच; भारतीय सेना के लिए यूपी की फर्म ने तैयार किए हथियार, गलवान हिंसा से है रिश्ता

गैर घातक हथियार के साथ एपेस्ट्रॉन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के सीटीओ मोहित कुमार.

गैर घातक हथियार के साथ एपेस्ट्रॉन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के सीटीओ मोहित कुमार.

UP Firm Developed Weapons: मोहित कुमार ने बताया कि गलवान संघर्ष के बाद सुरक्षा बलों ने उनकी कंपनी को गैर-घातक हथियार बनाने के लिए कहा था.

    नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश की एक फर्म ने सुरक्षा बलों के लिए पारंपरिक भारतीय हथियारों से प्रेरित गैर-घातक हथियार विकसित किए हैं, जिनका इस्तेमाल ना सिर्फ दुश्मन सैनिकों के खिलाफ किया जा सकता है, बल्कि हिंसा, उपद्रव जैसी घटनाओं पर काबू पाने के लिए भी हो सकता है. हथियारों को तैयार करने वाली एपेस्ट्रॉन प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (सीटीओ) मोहित कुमार ने बताया कि गलवान संघर्ष के बाद सुरक्षा बलों ने उनकी कंपनी को गैर-घातक हथियार बनाने के लिए कहा था.

    मोहित ने कहा, “गलवान संघर्ष में चीन द्वारा हमारे सैनिकों के खिलाफ तार वाली लाठी, टेसर का इस्तेमाल करने के बाद सुरक्षा बलों ने हमें गैर-घातक हथियार विकसित करने के लिए कहा.” कंपनी ने वज्र, त्रिशूल और सैपर पंच जैसे कुछ हथियार बनाए हैं, जिनके उपयोग को लेकर मोहित कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया.

    गोवा मेडिकल कॉलेज में क्यों रहीं थीं देर रात कोरोना मरीजों की मौत? रिपोर्ट में हुआ खुलासा

    कंपनी के सीटीओ मोहित ने कहा, “वज्र, स्पाइक्स के साथ एक मेटल रोड टेजर का इस्तेमाल टेजिंग और हैंड टू हैंड कॉम्बैट के साथ-साथ बुलेट प्रूफ वाहनों को पंचर करने के लिए किया जा सकता है. त्रिशूल का उपयोग दुश्मन के वाहनों को रोकने के साथ-साथ रोकने के लिए भी किया जा सकता है.”

    मोहित ने ‘सैपर पंच’ की अहमियत पर बात करते हुए कहा, “यह एक टेसिंग उपकरण है, जिसे ‘सैपर पंच’ कहा जाता है. इसे सुरक्षा दस्ताने की तरह पहना जाता है और दुश्मन को करंट डिस्चार्ज के साथ झटका देने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. कोई भी गैर-घातक हथियार मौत या किसी गंभीर चोट का कारण नहीं बन सकता.”

    Tags: China, Galwan Valley Clash, Indian army

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर