लाइव टीवी

सबरीमाला मंदिर पहुंचीं तृप्ति देसाई की साथी बिंदु अम्मिनी पर मिर्च पाउडर से हमला

News18Hindi
Updated: November 26, 2019, 10:37 AM IST
सबरीमाला मंदिर पहुंचीं तृप्ति देसाई की साथी बिंदु अम्मिनी पर मिर्च पाउडर से हमला
कोच्चि आयुक्त कार्यालय के बाहर मिर्च पाउडर हमले की जानकारी देतीं बिंदु अम्मिनी.

कोच्चि एयरपोर्ट (Kochi Airport) से निकलते समय भूमाता ब्रिगेड की संस्थापक तृप्ति देसाई ((Trupti Desai) ने कहा अगर हमें सबरीमाला मंदिर (Sabarimala Temple) जाने से कोई भी रोकने की कोशिश करता है तो हम इसे अदालत की अवमानना मानते हुए अपील दायर करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2019, 10:37 AM IST
  • Share this:
कोच्चि. महाराष्ट्र (Maharashtra) की महिला अधिकार कार्यकर्ता तृप्ति देसाई (Trupti Desai) सबरीमाला मंदिर (Sabarimala Temple) में प्रवेश करने के लिए मंगलवार सुबह केरल के कोच्चि एयरपोर्ट पहुंचींं. इसी बीच खबर आई है कि कोच्चि आयुक्त कार्यालय के बाहर तृप्ति देसाई के साथ पिछले साल सबरीमाला मंदिर जाने वाली बिंदु अम्मिनी के ऊपर हमला किया गया है. बिंदु अम्मिनी ने आरोप लगाया है कि आयुक्त कार्यालय के बाहर उनके ऊपर मिर्च पाउडर डालने की कोशिश की गई.

कोच्चि एयरपोर्ट से निकलते समय भूमाता ब्रिगेड की संस्थापक तृप्ति देसाई ने कहा अगर हमें कोई भी रोकने की कोशिश करता है तो हम इसे अदालत की अवमानना मानते हुए अपील दायर करेंगे. इन महिलाओं का कहना है कि वे मंदिर जाने के लिए पुलिस से सुरक्षा की मांग करेंगी.



बताया जाता है कि कोच्चि एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद तृप्ति देसाई को कोच्चि आयुक्त कार्यालय ले जाया गया था. इसी बीच आयुक्त कार्यालय में पहले से मौजूद कुछ लोगों की बिंदु अम्मिनी से बहस हो गई. बिंदु ने आरोप लगाया है कि उनके ऊपर वहां पर मिर्च पाउडर फेंका गया है.
Loading...




बिंदु अम्मिनी ने इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी शूट किया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि उन पर मिर्च पाउडर छिड़कने वाले व्यक्ति की सुरक्षा की जा रही है लेकिन उन्हें सुरक्षा नहीं मिल रही. वीडियो में बिंदु और अन्य महिलाओं को रोकने की कोशिश करने वाले लागों के बीच बहस को भी दिखा गया है.

Maharashtra, Trupti Desai, Sabarimala Temple, Kerala, Kochi Airport,
सबरीमाल मंदिर में पिछले साल बिंदु अम्मिनी के साथ हुई थी खींचतान.


गौरतलब है कि सबरीमाला का दो महीनों का त्योहार पिछले हफ्ते औपचारिक रूप से शुरू हो गया है. हजारों श्रद्धालु अयप्पा के दर्शन के लिए सबरीमाला पहुंचना शुरू हो गए हैं. 16 नवंबर को मंडल पूजा उत्सव के लिए सबरीमाला मंदिर के कपाट खोले गए थे. सुप्रीम कोर्ट ने 2018 में हर उम्र की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की इजाजत दे दी थी. हालांकि इस फैसले पर पुनर्विचार याचिका दायर की गई थी, जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इसे 7 जजों की बड़ी बेंच को भेज दिया था.

इसे भी पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट का आदेश, चार हफ्ते में सबरीमाला को लेकर कानून लाए केरल सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 9:38 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...