आनंद महिंद्रा ने भी जताई थी ओला-उबर को लेकर फिक्र! लोगों ने खोद निकाला पुराना बयान

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने मंगलवार को कहा था कि गाड़ियों की बिक्री गिरने के लिए लोगों का माइंडसेट ज़िम्मेदार है. अब ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra). ट्विटर पर लोग उन्हें उनके पुराने बयान की याद दिला रहे हैं.

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 4:18 PM IST
आनंद महिंद्रा ने भी जताई थी ओला-उबर को लेकर फिक्र! लोगों ने खोद निकाला पुराना बयान
महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (फ़ाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 4:18 PM IST
ऑटो सेक्टर में आई मंदी पर दो दिन पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने जो सफाई दी थी वो लोगों को रास नहीं आई. लिहाजा लोगों ने वित्त मंत्री को सोशल मीडिया पर खासा ट्रोल किया. सीतारमण के बाद अब महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) भी ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं. ट्विटर पर लोग उन्हें उनके पुराने बयान की याद दिला रहे हैं.

दरअसल साल 2015 में दिए एक इंटरव्यू में महिंद्रा ने कहा था कि सड़कों पर ओला-उबर की टैक्सी आने से कारों की बिक्री घटेगी. उन्होंने यह भी कहा था कि कई युवा इन टैक्सी के आने बाद खुद अपनी गाड़ी नहीं रखना चाहेंगे. महिंद्रा के इसी पुराने बयान के सहारे लोग सीतारमण की दलील को सही ठहरा रहे हैं.


Loading...




कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि बीजेपी ने आनंद महिंद्रा के इस बयान को तलाशने में काफी वक्त लगा दिया. इस लोगों ने बीजेपी का काफी मज़ाक उड़ाया.





वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा था कि गाड़ियों की बिक्री गिरने के लिए लोगों का माइंडसेट ज़िम्मेदार है. उन्होंने कहा कि ऑटो इंडस्ट्री पर BS6 और मिलेनियल्स माइंडसेट की वजह से चोट पड़ी है. नए जमाने के लोग गाड़ियां खरीदने के बजाय ओला-उबर का इस्तेमाल कर रहे हैं. लोगों को वित्त मंत्री का ये तर्क रास नहीं आ रहा है.

ये भी पढ़ें:

J&K में हमले की बड़ी साजिश नाकाम, 6 एके-47 के साथ 3 आतंकी गिरफ्तार
MP: बारिश से परेशान लोगों ने करा दिया मेंढक-मेंढकी का तलाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 3:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...